Home उत्तराखंड 28 मई को होने वाली नर्सिंग भर्ती परीक्षा के लिए शासन की...

28 मई को होने वाली नर्सिंग भर्ती परीक्षा के लिए शासन की ये है तैयारी, आज एडमिट कार्ड भी होंगे जारी…

327
SHARE

कोरोना संकट के बीच उत्तराखंड में 28 मई को स्टाफ नर्स की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाना है, इन विषम परिस्थितियों में यह परीक्षा ना केवल अभ्यर्थियों के लिए चुनौती है बल्कि शासन के लिए भी परीक्षा कराना बड़ी चुनौती साबित होगा। हालांकि राजनीतिक दलों के साथ ही विभिन्न संगठनों ने भी कोरोना काल में परीक्षा आयोजित कराने को लेकर सवाल उठाए हैं, और फिलहाल परीक्षा स्थगित करने की मांग की है। लेकिन सरकार कोरोना महामारी के कारण उपजी परिस्थितियों में स्टाफ नर्स की आवश्यकताओं को देखते हुए इस भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूर्ण करना चाहती है।

आने वाली सभी चुनौतियों का सामना करने के लिए शासन स्तर पर अभी से तैयारियां तेज हो गई हैं। दूर-दराज के अभ्यर्थियों को परीक्षा रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा की सुविधा मिलेगी। राज्य में केवल दो जगह हल्द्वानी व देहरादून में ही परीक्षा केन्द्र रखे गए हैं, ऐसे में कोविड कर्फ्यू के दौरान परीक्षार्थियों को आने जाने में परेशानियों का सामना न करना पड़े, इसलिए राज्य के विभिन्न जिलों व बाहरी प्रदेशों से आने वाले अभ्यर्थियों के लिए निशुल्क बस सेवा और रहने की व्यवस्था के आदेश दिए गए हैं।

वहीं प्राविधिक शिक्षा एवं परीक्षा परिषद के संयुक्त सचिव डॉ. मुकेश पांडे ने बताया है कि देहरादून में एक परीक्षा केन्द्र में परिवर्तन किया गया है, निंबस एकेडमी चकराता रोड़ के सेंटर को निरस्त कर लक्ष्मण विद्यालय इंटर कॉलेज को नया सेंटर बनाया गया है। परीक्षा के लिए देहरादून में 14 और हल्द्वानी में 13 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं।

परीक्षा के लिए पंजीकृत उम्मीदवारों में देहरादून और नैनीताल के सबसे अधिक हैं। देहरादून के 2673 और नैनीताल के 1222 उम्मीदवार पंजीकृत हैं। इसके अलावा चमोली के 280, हरिद्वार के 759, पौड़ी के 465, रुद्रप्रयाग के 159, टिहरी के 372, उत्तरकाशी के 321, अल्मोड़ा के 477, बागेश्वर के 262, चंपावत के 126, पिथौरागढ़ के 723 और ऊधमसिंह नगर के 759 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। वहीं, उत्तर प्रदेश के 165, दिल्ली के 156, हरियाणा के 31 और पंजाब से 16 उम्मीदवारों ने भी आवेदन किया है। इसके अलावा राजस्थान से 10, हिमाचल से छह, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र से पांच-पांच, मध्य प्रदेश से चार, छत्तीसगढ़ से तीन, आंध्र प्रदेश, बिहार और कर्नाटक से दो-दो, उड़ीसा और तमिलनाडु से एक-एक उम्मीदवार ने आवेदन किया हुआ है।

अगर किसी भी जगह पर कोरोना कर्फ्यू लगा हुआ होगा तो स्टाफ नर्स भर्ती के उम्मीदवारों के लिए विशेष छूट दी जाएगी। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, उम्मीदवार का प्रवेश पत्र और फोटो आईडी ही उसका कर्फ्यू पास माना जाएगा। इस आधार पर उन्हें आवागमन में राहत दी जाएगी।