Home उत्तराखंड प्रदेश में स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा विभाग को सरकार के फैसले...

प्रदेश में स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा विभाग को सरकार के फैसले का इंतजार….

192
SHARE
फाइल फोटो

उत्तराखण्ड के स्कूलों में 30 जून को ग्रीष्मकालीन अवकाश खत्म हो रहे हैं, लेकिन ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद भी स्कूलों के खुलने की सम्भावना कम ही नजर आ रही है। शिक्षा विभाग स्कूल खोलने को लेकर सरकार के फैसले का इंतजार कर रहा है। सरकार ने हालांकि अभी तक स्कूल खोलने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है। जिससे साफ है कि 1 जुलाई से भी स्कूलों का खुलना नामुमकिन सा है।

वहीं शिक्षा विभाग के अधिकारी जल्द स्कूल खोलने की पैरवी कर रहे हैं। 22 जून को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्कूलों को खोलने पर भी चर्चा हुई थी, जिसमें शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने सिफारिश की थी स्कूलों को ज्यादा बंद करना ठीक नहीं है। इससे पढ़ाई का नुकसान हो रहा है, शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने गर्मियों की छुट्टियों के बाद 1 जुलाई से स्कूल खोलने की सिफारिश की थी।

वहीं इस संबंध में शिक्षा सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण कुछ कम हुआ है लेकिन अब भी एहतियात बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कोरोना के लिए तय मानक सेनेटाईजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग आदि के साथ स्कूलों को तैयार करने में वक्त की जरूरत होगी। उच्च स्तर पर जो भी निर्णय किया जाएगा उसी के अनुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी।

वहीं शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़ा मामला होने के चलते जल्दबाजी में फैसला लेने के पक्ष में नहीं हैं। उच्च स्तर पर और कैबिनेट स्तर पर सहमति बनने के बाद ही इस पर निर्णय लिया जा सकता है।