Home खास ख़बर कोरोना से मरने वाले स्टाफ के परिजनों को वेतन देता रहेगा टाटा...

कोरोना से मरने वाले स्टाफ के परिजनों को वेतन देता रहेगा टाटा स्टील…

291
SHARE

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में देश में लाखों लोगों ने अपनी जान गंवाई है। कोरोना काल ने की घरों के चिराग छीन लिए तो वहीं कई लोग अनाथ हो गए, कोरोना के कारण जान गंवा चुके लोगों के आश्रितों के भरण-पोषण को लेकर राज्य सरकारें भी अपनी-अपनी तरफ से कशिश कर रही हैं। वहीं कई बड़ी कंपनियों ने कोरोना मृतक कअपने कर्मचारी के परिजनों के लिए दरियादिली दिखाई है।

टाटा स्टील ने ऐलान किया है कि वह कोरोना से होने वाले अपने किसी भी कर्मचारी की मौत पर उनके आश्रितों को मृत कर्मचारी की 60 साल की उम्र तक (यानी उसकी रिटायरमेंट की उम्र तक) पूरी सैलरी देती रहेगी. यही नहीं, उसके बच्चों की पढ़ाई का पूरा इंतजाम भी कंपनी करेगी और ऐसे परिवारों को मेडिकल और आवास सुविधाएं भी मिलती रहेंगी।

कंपनी ने उन कर्मचारियों के बच्चों की ग्रेजुएशन तक की शिक्षा का खर्च उठाने का ऐलान भी किया है। ओयो रूम्स भी कोरोना संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले अपने स्टाफ के परिजनों के लिए मदद का ऐलान कर चुका है, कंपनी ने मृत कर्मचारियों के परिजनों को 8 माह का वेतन और 5 साल तक उनके बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाने का ऐलान किया था, इसके अलावा कंपनी बोरोसिल ने भी कहा था कि व कोविड-19 के कारण मरने वाले अपने कर्मचारियों के परिजनों को दो साल तक सैलरी देगी।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों की मौत होने के बाद उनके आश्रितों को अच्छी रकम और पेंशन जैसी सुविधाएं मिलती हैं, लेकिन निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को कुछ खास नहीं मिलता था। लेकिन कोरोना संकट के दौर में खासकर दिग्गज प्राइवेट कं​पनियों ने इस दिशा में दरियादिली दिखाते हुए अच्छी पहल की है।