Home उत्तराखंड देहरादून में हुए दोहरा हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, एक छोटी...

देहरादून में हुए दोहरा हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, एक छोटी सी नौकरी की चाह में कर दी दो लोगों की हत्या…

301
SHARE

एक अदनी सी नौकरी की चाह में व्यक्ति किस हद तक गुज़र गया इसकी एक बानगी दिखाई देती है देहरादून के धौलाश क्षेत्र में हुए दोहरे हत्याकांड के मकसद में। राजधानी देहरादून के धौलास गांव में हुए दोहरे हत्याकांड का आखिरकार पर्दाफाश हो गया है। पुलिस के अनुसार इस हत्याकांड को अंजाम देने वाला और कोई नहीं बल्कि धौलास गांव के इस आलीशान बंगले में काम करने वाले राजू उर्फ श्याम थापा का पहचान वाला ही निकला। जानकारी के मुताबिक राजू को ठिकाने लगाकर उसकी नौकरी पाने की चाह में हत्यारे ने पहले राजू को ठिकाने लगाया और इसी दौरान जब बंगले की मालकिन उन्नति शर्मा ने राजू की हत्या करते देखा तो उसने उन्नति को भी मौत के घाट उतार दिया।

पुलिस जानकारी के अनुसार इस दोहरे हत्याकांड में मारा गया राजू उर्फ श्याम थापा मूलरूप से नेपाल का रहने वाला है। उसी का एक साथी जो धौलास गांव के निचले इलाके में झोपड़ पट्टी में रहता था। आरोपी राजू की जगह पर वह नौकरी पाना चाहता था। दरअसल, राजू को बंगले में नौकरी के एवज में 25,000 रुपए मिलते थे। इसलिए उसने उसकी हत्या की साजिश को अंजाम दिया। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक हत्यारे को 2 दिन पहले ही पुलिस कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही थी। इस मामले में नौकर राजू के मोबाइल को सर्विसलांस में लगाने के जरिए ही पुलिस कथित हत्यारे तक पहुंची।

गौरतलब है कि इस दोहरे हत्याकांड को लेकर पुलिस तमाम एंगल से वर्कआउट करने में जुटी थी, हत्याकांड में पुलिस के हाथ कोई ठोस सुबूत और अहम सुराग नहीं आ रहे थे। ऐसे में इस बात का अंदेशा जताया जा रहा था कि या तो इस बेशकीमती आलीशान प्रॉपर्टी को हड़पने के लिए कोई षड्यंत्र हो सकता है, या फिर परिवार के संबंधों को लेकर कड़ी जोड़ी जा रही थी।

सीसीटीवी फुटेजो से प्राप्त संदिग्ध हुलिये का आदित्य के हुलिये से मिलान करने पर वह उससे मिलता जुलता प्रतीत हुआ। जिस पर पुलिस टीम द्वारा संदिग्धता के आधार पर आदित्य को हिरासत में लिया गया। आदित्य से सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा दिनाँक 29-09-2021 को उन्नति शर्मा व उनके नौकर श्याम उर्फ राजकुमार थापा की हत्या करना स्वीकार किया गया। जिस पर अभियुक्त को दिनाँक 01-10-2021 की रात्रि को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त की निशानदेही पर पुलिस टीम द्वारा घटना में प्रयुक्त लोहे की रॉड को सुभाष शर्मा के घर के पीछे जंगल से तथा अभियुक्त द्वारा घटना के समय पहने गये कपड़ो को अभियुक्त के घर के पास से बरामद किया गया।