Home उत्तराखंड 16 जुलाई को प्रदेश में धूमधाम से मनााया जाएगा हरेला, प्रदेश में...

16 जुलाई को प्रदेश में धूमधाम से मनााया जाएगा हरेला, प्रदेश में वृहद स्तर पर होगा वृक्षारोपण…..

296
SHARE

16 जुलाई को पूरे प्रदेश में हरेला पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। इस दिन सरकार ने प्रदेश में वृहद स्तर पर वृक्षारोपण करने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि 16 जुलाई को उत्तराखण्ड में हरेला पर्व मनाया जाता है। प्रकृति के संरक्षण के उद्देश्य से उत्तराखण्ड में हरेला पर्व मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रकृति के संरक्षण के लिए हरेला पर्व के अवसर पर सभी को वृक्षारोपण करने का संकल्प लेना होगा। जुलाई एवं अगस्त माह का समय वृक्षारोपण के लिए सबसे उपयुक्त है। हमें अपनी परम्पराओं एवं परिवेश को बढ़ावा देना होगा।

राज्य सरकार ने वर्ष 2021 के लिए जारी सरकारी अवकाश कैलेंडर में हरेला पर्व के दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। बीते कई वर्षों से हरेला पर्व के अवसर पर सार्वजनिक छुट्टी की मांग उठती रही है, जिसे देखते हुए सरकार ने जन भावनाओं का सम्मान करते हुए 2021 में सार्वजनिक अवकाशों की सूची में शामिल किया है।

यूं तो यह हरेला वर्ष में तीन बार आता हैं लेकिन उत्तराखंड के लोगों द्वारा श्रावण मास में पढने वाले हरेले को अधिक महत्व दिया जाता है। खासतौर पर कुमाऊं क्षेत्र में यह लोक त्योहार हरेला धूमधाम से मनाया जाता है। सावन की शुरुआत में मनाया जाने वाला यह त्योहार हरियाली का उत्सव है। इस दौरान लोग हरेला पर्व से नौ या दस दिन पूर्व पांच या 7 प्रकार के अनाजों को मिट्टी की टोकरियों में बोते हैँ, और फिर उसकी हरेले के दिन पूजा के बाद काटा जाता है। उसके बाद उस काटे गए तिनकों को एक दूसरे के सिर पर रख कर आशीर्वाद दिया जाता है।