Home उत्तराखंड कोरोना वायरस पर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र का बयान, कोरोनावायरस भी एक प्राणी...

कोरोना वायरस पर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र का बयान, कोरोनावायरस भी एक प्राणी और उसे भी जीने का अधिकार है…

556
SHARE

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने स्वास्थ्य व्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित किया है यहां अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से लोगों की सांसें उखड़ रही हैं, तो वहीं श्मशानघाटों में शवों के अंतिम संस्कार के लिए भी लंबी लाइनें लगी हैं। केन्द्र सरकार व राज्य सरकारें कोरोना के कहर को कम करने के लिए कई तरह के प्रयास कर रही हैं, लेकिन ये सारे प्रयास फिलहाल नाकाफी साबित हो रहे हैं। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के इस भयावह रूप के पीछे राजनीतिक व धार्मिक आयोजनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न होना रहा।

देश में बड़ी संख्या में लोग कोरोना से अपनी जिंदगी की जंग हार रहे हैं, लेकिन देश-प्रदेश में इसको लेकर राजनीति भी जमकर हो रही है पक्ष-विपक्ष के नेता एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। वहीं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत इन दिनों अपने बयानों से सुर्खियों में हैं, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जहां कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी को अनुभवहीन मंत्री बताया तो वहीं अब कोरोना को लेकर अजीबो-गरीब बयान दिया है।

त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस के बदलते स्वरूप को लेकर कहा है कि मैं एक दार्शनिक बात करता हूं कि कोरोनावायरस भी एक प्राणी है और उसे भी जीने का अधिकार है उनके अनुसार कोरोनावायरस के पीछे हम लोग पड़े हुए हैं हम उसे खत्म कर देना चाहते हैं, लेकिन वह भी अपने बचने के लिए तरह-तरह के रूप बदल रहा है वह बहरूपिया बनता जा रहा है ऐसे में मेरा इतना कहना है कि वायरस तू भी चल और हम भी चलते हैं बस हमें अपनी चाल उस वायरस से तेज रखनी होगी उस से दूरी बनाए रखनी होगी।