Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा अल्मोड़ा में बोले शिक्षा मंत्री अटल उत्कृष्ट विद्यालय खोलने का मकसद गरीब...

अल्मोड़ा में बोले शिक्षा मंत्री अटल उत्कृष्ट विद्यालय खोलने का मकसद गरीब बच्चों को गुणवत्ता शिक्षा उपलब्ध कराना…

237
SHARE

प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविन्द पाडेंय ने अल्मोड़ा जनपद में अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में चयनित विभिन्न विद्यालयों का शुभारम्भ किया। इस दौरान उन्होंने राजकीय इण्टर कालेज सोमेश्वर, राजकीय इण्टर कालेज अल्मोड़ा व राजकीय इण्टर कालेज भुजान पहुॅचकर अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का शुभारम्भ किया वहीं जनपद के शेष 19 अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का शुभारम्भ उन्होंने वर्चुअल माध्यम से किया। जनपद में कुल 11 विकासखण्डों में दो-दो अटल उत्कृष्ट विद्यालय चयनित किये गये है। जनपद के अन्य उत्कृष्ट विद्यालय राइका डीनापानी, राइका सलौंज, राइका द्वाराहाट, राइका जालली, राइका भोनखाल, राइका क्वैराला, राइका बाड़ेछीना, राइका नौगाॅव रीठागाड़, राइका भिकियासैंण, राइका चैनलिया, राइका कनरा, राइका लमगड़ा, राइका सराईखेत, राइका स्याल्दे, राइका मासी, राइका चैखुटिया, राइका पालीगुणादित्य, राइका दन्या, राइका ताड़ीखेत है।

अटल उत्कृष्ट विद्यालय अल्मोड़ा में आयोजित कार्यक्रम के दौरान उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि इन विद्यालयों को खोलने के पीछे सरकार का मुख्य मकसद है कि प्रदेश के हर उस गरीब परिवार के बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध हो सके जो पहाड़ से पलायन कर मैदानी क्षेत्रों में शिक्षा प्राप्त करने जा रहे है। सभी को गुणवत्तायुक्त शिक्षा उपलब्ध हो जिसके माध्यम से अंग्रेजी शिक्षा उपलब्ध हो सके जो आधुनिक समय की माॅग है। उन्होंने कहा कि इन विद्यालयों में अंग्रेजी माध्यम से शिक्षण व्यवस्था संचालित होगी व सीबीएससी से मान्यता दिलायी जा रही है जिससे निर्धन परिवार के बच्चें भी अंग्रेजी में शिक्षा ग्रहण कर पायेंगे।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ट विद्यालय हैं, जिसमें 797 पदों के सापेक्ष 3950 अध्यापकों द्वारा आवेदन किया गया है जिससे इन विद्यालयों में योग्य शिक्षक मिलेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार राज्य में शैक्षिक गुणवत्ता के साथ-साथ शिक्षकों और शिक्षिकाओं की समस्याओं का हर सम्भव समाधन करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों के प्रयासो से नीति आयोग के सर्वे में उत्कृष्ट शिक्षा की दिशा में राज्य चौथे स्थान पर रहा है, हमारा प्रयास रहेगा कि हम प्रथम स्थान पर पहुॅचे।