Home उत्तराखंड पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र के एक और फैसले को पलट सकते हैं मुख्यमंत्री...

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र के एक और फैसले को पलट सकते हैं मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत…

725
SHARE

प्रदेश के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत अब पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा लिए गए एक और फैसले को पलट सकते हैं, मुख्यमंत्री ने गैरसैंण मण्डल बनाए जाने के फैसले पर पुनर्विचार करने की बात कही है। मुख्यमंत्री ने एक ओर जहां सरकार के 4 साल पूरे होने पर होने वाले कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं तो वहीं कुंभ मेले में कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाने की बाध्यता को भी खत्म कर दिया है। बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण को तीसरा मण्डल बनाने की घोषणा गैरसैंण विधानसभा सत्र के दौरान कई थी, उनके इस फैसले से आम जनता में आक्रोश है तो वहीं भाजपा के अंदर कई लोग इस फैसले से नाखुश हैं। अब मुख्यमंत्री ने भी इस फैसले पर पुनर्विचार करने की बात कही है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा है कि कुंभ में स्नान के लिए आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाने की बाध्यता नहीं होगी साथ ही उन्होंने कहा है कि देवस्थानम बोर्ड व गैरसैंण कमिश्नरी के मामले में जनभावनाओं को देखते हुए सरकार फिर से विचार करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि तीर्थ पुरोहितों को बातचीत के लिया बुलाया जाएगा, सरकार का काम लोगों की दिक्कतें कम करना है, बढ़ाना नहीं।

वहीं मुख्यमंत्री ने कुम्भ मेले में आने वाले शंकराचार्यों और बैरागी अखाड़ों को भूमि उपलब्ध कराने के साथ उन क्षेत्रों में आवश्यक अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर भी ध्यान देने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह ने कुम्भ मेले की व्यवस्थाओं के लिये आवश्यक अतिरिक्त अधिकारियों की भी तैनाती शीघ्र करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही कुम्भ के लिये यदि अतिरिक्त व्यवस्थायें की जानी हो तो उसका प्रस्ताव दो दिन के अंदर शासन को उपलब्ध कराया जाय। उन्होंने विभागीय सचिवों को व्यक्तिगत रूप से कुम्भ कार्यों की समीक्षा के साथ ही स्थलीय निरीक्षण के भी निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने कुम्भ मेले में सुरक्षा व्यवस्था के प्रति भी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि आने वाली शाही स्नानों में शिवरात्रि पर्व की व्यवस्थाओं से भी बेहतर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित हो इस पर ध्यान दिया जाय।