Home उत्तराखंड बाबा रामदेव की बढ़ी मुश्किल आईएमए उत्तराखंड ने भेजा 1000 करोड़ का...

बाबा रामदेव की बढ़ी मुश्किल आईएमए उत्तराखंड ने भेजा 1000 करोड़ का नोटिस….

492
SHARE

एलोपैथिक इलाज के खिलाफ दिए गए बयान पर अब बाबा रामदेव की मुश्किल बढ़ती जा रही है। इंडिन मेडिकल एशोसिएशन ने अब बाबा रामदेव को मानहानि का एक नोटिस भेजा है, इसमें एलोपथी और एलोपैथिक डॉक्टरों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाते हुए 15 दिनों के अंदर मांफी मांगने को कहा है। ऐसा न करने पर 1000 करोड़ रूपए के मुआवजे की मांग की गई है। बाबा रामदेव ने ये लगाए थे आरोप-

 

आईएमए उत्तराखंड के सचिव अजय खन्ना ने अपने वकील नीरज पांडे के माध्यम से छह पन्नों का यह नोटिस भेजा है जिसमें कहा गया है कि योग गुरू की टिप्पणियों ने एलोपथी और आईएमए से जुड़े 2000 से ज्यादा डॉक्टरों की छवि और इज्जत को नुकसान पहुंचाया है।

रामदेव की टिप्पणियों को आईपीसी की धारा 499 के तहत आपराधिक कार्य बताते हुए नोटिस में कहा गया है कि इसे पाए जने के 15 दिनों के अंदर लिखित माफी मांगी जाए वर्ना आईएमए के प्रत्येक सदस्य को 50 लाख रूपए का मुआवजा दिया जाए।

नोटिस में योग गुरू से कहा गया है कि वह अपने आरोपों को गलत बताते हुए एक वीडियो क्लिप बनाएं और उन्हीं सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपलोड करें, जिन पर उन्होंने आरोपों वाला वीडियो शेयर किया था। इसके साथ ही सभी जगह से कोरोनिल किट को कोविड की प्रभावी दवा बताने वाले भ्रामक विज्ञापन को भी हटाने को कहा है। आईएमए ने कहा है कि अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो उनके खिलाफ एफआईआर और आपराधिक मामला दर्ज कराया जाएगा।