Home उत्तराखंड बढ़ते कोरोना संकट के बीच क्या 15 अप्रैल से खुल पाएंगे उत्तराखण्ड...

बढ़ते कोरोना संकट के बीच क्या 15 अप्रैल से खुल पाएंगे उत्तराखण्ड के सभी स्कूल ?

420
SHARE

प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा है कि 15 अप्रैल से प्रदेश में कक्षा 1 से 5 वीं तक के स्कूल भी खोल दिए जाएंगे। हालांकि इस दौरान कोरोना संबंधी गाइडलाइन का पालन कराना सुनिश्चित कराया जाएगा। प्रदेश में कक्षा 6 से 12 तक के विद्यालय पहले ही खोल दिए गए हैं। उन विद्यालयों में भी कोरोना संबंधी गाइडलाइन का पालन किया जा रहा है।

पूरे देश के साथ ही उत्तराखण्ड में एक बार फिर से कोरोना के मामले बढ़े हैं। पिछले तीन दिन की बाद की जाए तो लगातार 500 से अधिक मामले दर्ज किए जा रहे हैं। और सरकार ने भी कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के सख्ती बढ़ा दी है। बढ़ते कोरोना के बीच 15 अप्रैल से प्रदेश के सभी स्कूल खोलने पर शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा है कि सामान्यत: अभी कोरोना ने बच्चों को गिरफ्त में नहीं लिया है, लेकिन भविष्य में जिस तरह की स्थिति बनेगी उसी के आधार पर निर्णय लिया जाएगा।

लेकिन इस बीच देहरादून के प्रतिष्ठित दून स्कूल में शिक्षक व बच्चे भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यहां 5 शिक्षक व 7 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सभी को क्वारंटाइन कर दिया गया है। और संक्रमण फैलने की आशंका से स्कूल प्रशासन ने कुछ कक्षाओं पर अभी रोक लगा दी है।

हालांकि शिक्षा मंत्री ने हाल ही बयान दिया था कि यदि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते हैं तो एहतियातन स्कूलों को बंद कराया जा सकता है। लेकिन अब उन्होंने 15 अप्रैल से कक्षा 1 से 5वीं तक के स्कूल खोले जाने का भी ऐलान किया है। अब देखना होगा कि आने वाले दिनों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर क्या रहती है, यदि संक्रमण लगातार बढ़ता है, तो सरकार स्कूलों को लेकर क्या फैसला लेती है।