Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा अल्मोड़ा- यहां इस नदी में नहाने व मछली मारने पर लगा प्रतिबंध….

अल्मोड़ा- यहां इस नदी में नहाने व मछली मारने पर लगा प्रतिबंध….

343
SHARE

कुमाऊँ मण्डल में बीते दिनों कई युवाओं व किशोरों की नदी में डूबने से मौत हो गई, इनमें से कई लोग नहाने के लिए नदी में उतरे थे तो वहीं कई लोग नदी में आई बाढ़ की चपेट में आ गए जिसके कारण यह लोग असमय ही मौत के मुंह में समा गए। बरसात के मौसम में अक्सर नदी व गधेरे ऊफान पर होते हैं, जिससे कई बार ऐसी अप्रिय घटनाएं सामने आ जाती हैं। पूर्व में घटित घटनाओं का संज्ञान लेते हुए उप जिला मजिस्ट्रेट अल्मोड़ा सीमा विश्वकर्मा ने व्यापार मण्डल कोसी की मांग पर कोसी नदी के स्थान (कोसी शिव मन्दिर से दौलाघट रोड के बाईपास तक) कोसी नदी में नहाने व मछली मारने के लिए प्रतिबंधित कर दिया है।

एसडीएम सीमा विश्वकर्मा ने बताया कि अध्यक्ष व्यापार मण्डल कोसी द्वारा एक पत्र के माध्यम से अवगत कराया है कि कोसी नदी के स्थान (कोसी शिव मन्दिर से दौलाघट रोड के बाईपास तक) कोसी नदी में काफी गहरे-गहरे तालाब हो गये है। पूर्व में भी उक्त क्षेत्र में डूबने से कई व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है, एवं भविष्य में कोई भी जन-हानि के दृष्टिगत उक्त क्षेत्र में नहाने एवं मछली मारने के लिये प्रतिबन्धित किये जाने का अनुरोध किया है।

 

उन्होंने बताया कि भविष्य में कोई भी सम्भावित दुर्घटना के दृष्टिगत कोसी नदी के स्थान (कोसी शिव मन्दिर से दौलाघट रोड के बाईपास तक) के क्षेत्र को नहाने एवं मछली आखेट के लिये पूर्ण रूप से प्रतिबन्धित किया जाता है। उन्होंने थानाध्यक्ष सोमेश्वर राजस्व निरीक्षक हवालबाग को निर्देश दिये हैं कि उक्त क्षेत्र में नियमित रूप से गश्त लगाना सुनिश्चित करें। उप जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि उक्त प्रतिबन्धित क्षेत्र में कोई भी दुर्घटना होने पर सम्पूर्ण जिम्मेदारी थानाध्यक्ष सोमेश्वर राजस्व निरीक्षक हवालबाग की होगी।