Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा अल्मोड़ा- फिरौती के लिए 2 नाबालिगों का अपहरण करने वालों को पुलिस...

अल्मोड़ा- फिरौती के लिए 2 नाबालिगों का अपहरण करने वालों को पुलिस ने धर दबोचा, नाबालिग बालक सकुशल बरामद…

1729
SHARE
कपकोट बागेश्वर से फिरौती हेतु अपहर्त नाबालिग दो बालकों की अल्मोड़ा एवं बागेश्वर एसओजी टीम ने की कुछ ही घण्टों में सकुशल बरामदगी कर ली है। पहाड़ की शान्त वादियों में घटित सनसनीखेज वारदात का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गंभीरता से संज्ञान लिया था। मुख्यमंत्री ने डीआईजी कुमाऊँ परिक्षेत्र को नाबालिग बच्चों की सकुशल बरामदगी एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु सख्त निर्देश दिए थे।
मामले के अनुसार 08/09/2021 को वादी हर सिंह पुत्र मंगल सिंह निवासी ग्राम गांसी थाना कपकोट जनपद बागेश्वर द्वारा थाना कपकोट में तहरीर देकर अवगत कराया गया कि उनके नाबालिक पुत्र उम्र 16 वर्ष व उसके दोस्त उम्र 13 वर्ष जो कि कपकोट अस्पताल दवा लेने गये थे का अज्ञात बदमाशों द्वारा अपहरण कर लिया गया है एंव बालकों को छोड़ने के एवज में 600000/-रू0(छः लाख रूपये) की फिरौती की मांग कर रहे हैं। उक्त घटना के सम्बन्ध में सम्बन्ध में थाना कपकोट जनपद बागेश्वर में मु0अ0सं0 81/2021 धारा 364 (A) भादवि बनाम् अज्ञात पंजीकृत किया गया।
एसएसपी अल्मोड़ा पंकज भट्ट द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए अल्मोड़ा एसओजी प्रभारी उ0नि0 नीरज भाकुनी के नेतृत्व में अल्मोड़ा एंव एसओजी बागेश्वर की टीम गठित कर अपहरण कर्ताओं की गिरफ्तारी एवं अपहर्त किये गये बालकों की सकुशल बरामदगी हेतु तत्काल कार्यवाही किये जाने के निर्देश देते हुए समस्त पुलिस बल को अलर्ट किया।
एसओजी अल्मोडा एंव बागेश्वर की टीम द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर एक वाहन संख्या- यू0के0- 06 एजे-0040 काले रंग की टी0यू0वी0-300 को बेस तिराहा अल्मोड़ा के पास रोकने का प्रयास किया गया तो चालक द्वारा वाहन को तेजी से हल्द्वानी की ओर दौडा दिया गया तब एसओजी टीम द्वारा वाहन का पीछा कर उक्त वाहन को तमन्ना फास्ट फूड निकट छड़ा खैरना के पास पकड़कर वाहन में दुबकाकर रखे गये अप्रह्त बालकों को दिनांक- 09/09/2021 को बरामद कर 04 अभियुक्तगण (1) विशाल आगरी 2- विकास पाण्डे 3- नीरज टाकुली 4- कमल कुमार आर्या उपरोक्त को मय घटना में प्रयुक्त वाहन संख्या- यू0के0-06 ए0जे0- 0040 टी0यू0वी0-300 काले रंग सहित गिरफ्तार किया गया। जिनके कब्जे से फिरौती हेतु ले चुकी धनराशि 25000/-रू0 में से 22000/-रू0 नगद बरामद किये गये एवम अपहरणकर्ताओं द्वारा बालकों के परिजनों से अलग-अलग खातों में 37000/ रुपये की धनराशि गूगल पे के माध्यम से डलवाई गयी थी जिनके खातों की जांच की जा रही है।
घटना का तरीका – अभियुक्त नीरज टाकुली के द्वारा अपने मित्र मोहित टाकुली से सम्पर्क कर उक्त बालकों के अपहरण की योजना बनायी गयी एंव अन्य शेष अभियुक्त विशाल आगरी, विकास पाण्डे एंव कमल कुमार आर्या को योजना में शामिल कर कमल कुमार आर्या के वाहन संख्या-यू0के0-06 ए0जे0- 0040 से बागेश्वर पहुँचकर मोहित टाकुली के माध्यम से उक्त दोनों बालकों को वाहन में बैठाकर मोहित टाकुली को बागेश्वर छोड़कर बालकों का अपहरण कर उन्हीं के मोबाईल फोन से बालकों के परिजनों को फोन कर धमकी देकर छः लाख रूपये की फिरौती की माँग की गयी एंव फिरौती ना देने पर दोनों बालकों को मारने की धमकी दी गयी।
अपहरणकर्ताओं द्वारा बालक के ए0टी0एम0 से 25000 रूपये नगद निकाले गये एंव शेष धनराशि 19000 व 18000 रूपये गूगल पे के माध्यम से तत्काल ट्रान्सफर करवाये गये एंव शेष धनराशि लेकर बताये हुए स्थान पर आने हेतु कहा गया। अभियुक्तगण द्वारा बात करने के उपरान्त तत्काल मोबाईल फोन बन्द कर दिये जाते थे जिस कारण अभियुक्त गण की लगातार लोकेशन प्राप्त नही हो सकती थी।
उत्तराखण्ड सरकार द्वारा फिरौती हेतु अपहर्त किये गये दो नाबालिग बालकों की सकुशल बरामदगी एँव घटना में शामिल अपहरणकर्ताओं की कुछ ही घण्टो में गिरफ्तारी कर घटना का सफल अनावरण करने वाली पुलिस टीम के उत्साहवर्द्धन हेतु एक लाख रूपये(100000 रूपये ) नगद धनराशि के पुरूस्कार की घोषणा की गयी।