Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा अल्मोड़ा- जिलाधिकारी के निर्देश 45 वर्ष से ऊपर आयु के कोई भी...

अल्मोड़ा- जिलाधिकारी के निर्देश 45 वर्ष से ऊपर आयु के कोई भी व्यक्ति वैक्सीन लगाने से न छूटे, ग्राम स्तर पर कैंप लगाकर करें टीकाकरण…

460
SHARE
जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने शुक्रवार को वर्चुवल माध्यम से कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम व वैक्सीनेशन अभियान की समीक्षा समस्त उपजिलाधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों व प्रभारी चिकित्साधिकारियों के साथ की। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि 45 वर्ष से ऊपर आयु के कोई भी व्यक्ति वैक्सीन लगाने से न छूट पाये इसके लिए ग्राम स्तर तक एक सप्ताह के भीतर कैम्प के माध्यम से टीकाकरण अभियान सुनिश्चित करें। 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगो का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने के निर्देश उन्होंने अधिकारियों को दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि इस कार्य के लिए ग्राम स्तर तक विशेष कैम्प आयोजित करें इस हेतु सम्बन्धित उपजिलाधिकारी पूरे टीकाकरण अभियान की मानिटरिंग करें। जिलाधिकारी ने प्रत्येक दिन में लगाये गये टीके की सूचना कन्ट्रोल रूम में उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
उन्होंने बीएलओ के माध्यम से वितरित की जा रही आइवरमेक्टिन दवा के वितरण में और तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि यह दवा प्रत्येक परिवार को दी जाय यह सुनिश्चित कर लें। वहीं नगरीय क्षेत्र में भी इसके वितरण को तत्काल प्रारम्भ करने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि वर्तमान तक 5 लाख गोलियाॅ वितरित की जा चुकी है। इसके अलावा उन्होंने कोरोना पाॅजिटिव व्यक्तियों को दी जाने वाली होम आइशोलेशन किट भी तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि जनपद में वर्तमान में 20 हजार से अधिक होम आईशोलेशन किट तैयार की गयी है जिसका समय-समय पर वितरण किया जा रहा है।
जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकरियों व चिकित्साधिकारियों से उनके क्षेत्रान्तर्गत आ रही अन्य समस्याओं आदि की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि अभी तक सभी अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा कोरोना के रोकथाम हेतु बेहतर कार्य किया गया है जिसे आगे भी जारी रखने का प्रयास किया जाय। इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सविता हयांकी अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अनिल ढीगंरा, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, जिला पंचायत राज अधिकारी गोपाल सिंह अधिकारी के अलावा सभी उपजिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी व प्रभारी चिकित्साधिकारी वर्चुवल माध्यम से बैठक में उपस्थित रहे।