Home अपना उत्तराखंड थराली विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान शुरू, ईवीएम में मिली गड़बड़ी

थराली विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान शुरू, ईवीएम में मिली गड़बड़ी

2000
SHARE
सुबह 8 बजे शुरू हुए मतदान के दौरान बूथ संख्या 45 सरपाणी पर ईवीएम खराब होने की सूचना मिली है। कई बार बटने दाबने के बाद भी कांग्रेस प्रत्याशी को वोट नहीं जा रहा है। जिसको लेकर कांग्रेस ने आपत्ति दर्ज करवाई है। वहीं मतदान शुरू होने पहले फोर्स ने सुबह कई इलाको में फ्लैग मार्च किया।

आपको बता दें कि थराली के पूर्व बीजेपी विधायक स्व: मगन लाल शाह के निधन के बाद ये सीट खाली हुई थी। जिस पर आज (28 मई) को उपचुनाव हो रहा है। इस सीट पर बीजेपी की और से मगन लाल शाह की पत्नी मुन्नी देवी चुनाव मैदान में है तो वहीं कांग्रेस ने प्रो. जीतराम को मैदान में उतारा है।

बीजेपी और कांग्रेस के लिए ये सीट कई मायनों में अहम है। मगन लाल शाह की मौत के बाद जहां बीजेपी इस सीट को किसी भी कीमत पर खोना नहीं चाहती है, तो वहीं कांग्रेस इस सीट के जरिए एक बार फिर अपना खोया हुआ जनाधार वापस पाने को कोशिश करेंगी। ऐसे में इस सीट पर दोनों ही दलों के प्रत्याशियों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिलेगा।

थराली विधानसभा पर एक नजर
थराली विधानसभा में 102569 मतदाता है, जिनमें 50991 पुरुष व 49301 महिला और 3277 सर्विस वोटर हैं। ये मतदाता इस सीट पर किस्मत आजमा रहे पांच प्रत्याशियों मुन्नी देवी (भाजपा), प्रो.जीतराम (कांग्रेस), कुंवरराम (भाकपा), कस्बीलाल (उक्रांद) व बीरीराम (निर्दलीय) के भाग्य का फैसला करेंगे।

वीवीपैट का इस्तेमाल
थराली विधानसभा उपचुनाव में पहली बार ईवीएम मशीने के साथ वीवीपैट का इस्तेमाल जा रहा है। यही नहीं, ईवीएम में कहीं कोई गड़बड़ी की सूचना आने के मद्देनजर अतिरिक्त ईवीएम भी विकल्प के रूप में रखी गई हैं।

178 मतदेय स्थल पर मतदान शुरू
सुबह 8 बजे से 178 मतदेय स्थलों पर मतदान शुरू हो गया हैं, जो शाम 5 बजे तक चलेगा। सभी पोलिग बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता इतजामात किए गए है। सुरक्षा की दृष्टि से स्थानीय पुलिस के साथ केंद्रीय फोर्स को भी तैनात किया है।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजामात
जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष जोशी के अनुसार विधानसभा उपचुनाव को शान्तिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये हैं। पूरे विधानसभा क्षेत्र को पांच जोन में बाटकर 39 सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं 18 माइक्रो आर्बजबर की तैनाती की गई है। 178 पोलिंग बूथों में से 8 पोलिंग बूथ अतिसंवेदनशील घोषित किए गए है। जिला प्रशासन ने 25 प्रतिशत रिजर्व सहित 223 मतदान टीमें तैनात की हैं। उपनिर्वाचन के लिए 50 बड़े वाहन, 160 छोटे वाहन 5 मध्यम ट्रक तथा 5 बड़े ट्रक लगाए गए हैं।