Home उत्तराखंड विधायक महेश नेगी की बढ़ी मुश्किलें, पुलिस ने कहा दुष्कर्म का आरोप...

विधायक महेश नेगी की बढ़ी मुश्किलें, पुलिस ने कहा दुष्कर्म का आरोप सिद्ध हुआ तो जेल जाना होगा, पार्टी ने भी कहा लेंगे एक्शन।

406
SHARE

द्वाराहाट से भाजपा विधायक महेश नेगी की पत्नी रीता नेगी ने एक महिला पर विधायक से ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाकर केस दर्ज कराया है, तो वहीं आरोपी महिला ने विधायक महेश नेगी पर शारीरिक उत्पीड़न का आरोप लगाया है। इस प्रकरण में अब महेश नेगी की मुश्किलें बढ़ सकती है। मामले की जांच अब सीओ सदर अनुज कुमार को सौंप दी गई है। इससे पहले मामले की जांच चौकी प्रभारी कर रहे थे।

खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर पुलिस में बयान देने से बचते आ रहे महेश नेगी आखिरकार बुधवार को मामले में अपने बयान दर्ज कराए पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर अनुज कुमार ने बताया कि विधायक शाम करीब 7:30 बजे बयान देने पहुंचे और 8:30 बजे वहां से निकल गए सीओ ने बताया कि जरूरत पड़ी तो उन्हें दोबारा बुलाया जाएगा।

पूरे प्रकरण में विधायक भले ही पुलिस से बचते आ रहे हैं, लेकिन साथ ही यह भी चाहते हैं कि उनकी पत्नी की तरफ से दर्ज मुकद्ममे में आरोपी के खिलाफ जल्द कार्रवाई हो। विधायक महेश नेगी ने बुधवार को देहरादून स्थित पुलिस मुख्यालय में एक शिकायत दी, इसमें कहा गया कि आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ उनकी पत्नी की ओर से मुकद्मा दर्ज कराया गया था लेकिन दून पुलिस उस मामले पर कार्रवाई नहीं कर रही। उन्होंने इस मामले में डीजीपी से एसएसपी देहरादून को जल्द कार्रवाई करने के निर्देश देने की मांग की है।

वहीं विधायक पर आरोप लगाने वाली महिला भी बुधवार को नेहरू कॉलोनी चौकी पहुंची थी और पुलिस से केस दर्ज करने की मांग की। महिला ने कहा यदि केस दर्ज नहीं हुआ तो वह हाईकोर्ट जाएंगी। महिला ने कहा कि पुलिस को मेरी तहरीर पर अलग से केस दर्ज करना चाहिए, लेकिन सरकार के दबाव में केस दर्ज नहीं किया जा रहा है। वहीं डीआईजी अरूण मोहन जोशी का कहना है कि ब्लैकमेलिंग के मुकदमे और महिला की ओर से आई दुष्कर्म की तहरीर पर सभी पहलुओं पर जांच कर रही है, मुकद्मा चूंकि दर्ज हो चुका है, लिहाजा सारी जांच और कार्रवाई इसी के तहत होगी। महिला की तहरीर को मुकद्मे की जांच में शामिल कर दिया है।

मामले की पुलिस तो जांच कर ही रही है, वहीं अब यह मामला राजनीतिक रंग भी लेने लगा है। कांग्रेस व आम आदमी पार्टी ने इस मामले में भाजपा पर निशाना साधा है।चौतरफा दबाव के बाद अब महेश नेगी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। डीआईजी अरूण मोहन जोशी ने कहा है कि कानून की नजर में साधारण व्यक्ति और विधायक दोनों बराबर हैं, अगर दुष्कर्म के आरोपों की पुष्टि हुई तो विधायक को जेल जाना होगा।वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा है कि विधायक पर अघर आरोप सिद्ध होते हैं तो पार्टी तत्काल एक्शन लेगी।