Home अपराध उत्तराखण्ड़ में बढ़ता अपराध रामनगर में खनन कारोबारी पर फायर तो रुड़की...

उत्तराखण्ड़ में बढ़ता अपराध रामनगर में खनन कारोबारी पर फायर तो रुड़की में प्रधान की हत्या।

401
SHARE

उत्तराखण्ड़ की शांत वादियों को न जाने किसकी नजर लग गई है, अक्सर शांत रहने वाले इस प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में लगातार अपराध की घटनाएं सामने आ रही हैं, बीते 15 दिसंबर को हल्द्वानी में दिन-दहाड़े प्रापर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या कर दी गई, तो वहीं रुद्रपुर में 17 दिसंबर को ट्रक चालक का संदिग्ध अवस्था में शव बरामद होता है।पुलिस प्रशासन इन हत्याओं की गुत्थी सुलझा ही रहा था कि कल रामनगर में कोसी के कालूसिद्ध खनन गेट में अवैध वसूली का विरोध करने पर कांटा कर्मचारी और उसके साथियों ने खनन कारोबारी पर फायर झोंक दिया।फायरिंग में बचने पर आरोपियों ने खनन कारोबारी को कार से कुचलने का प्रयास भी किया।हमले में घायल खनन कारोबारी के दोनों पैर फ्रैक्चर हो गए। हायर सेंटर रेफर करने के बाद कारोबारी का रामनगर के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।वहीं उत्तराखंड के रुड़की में रामनगर कचहरी के गेट के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने नगला कूबड़ा के ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली की आवाज सुनकर आसपास के दुकानदार इकट्ठा हो गए। सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा।लहूलुहान हालत में अस्पताल ले जाते हुए ग्राम प्रधान ने दम तोड़ दिया।पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।झबरेड़ा थाना क्षेत्र के गांव नगला कूबड़ा के ग्राम प्रधान कमरे आलम (45) पुत्र मकसूद अहमद शुक्रवार को अपनी स्कॉर्पियो से किसी मामले में रामनगर कचहरी आए थे। यहां काम निपटाने के बाद वह कुछ ही दूरी पर गेट के बाहर खड़ी अपनी कार की तरफ पैदल जा रहे थे। तभी गेट के पास दो बाइक सवार बदमाशों ने उनकी कनपटी से सटाकर गोली मार दी। कमरे आलम लहूलुहान होकर जमीन पर जा गिरे। गोली मारने के बाद बाइक सवार बदमाश फरार हो गए। पुलिस ने मौके से एक खाली खोखा भी बरामद किया है। उधर, ग्राम प्रधान की हत्या किए जाने की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। ग्रामीण भी अस्पताल में उमड़ पड़े। सिविल अस्पताल में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। एसपी देहात नवनीत सिंह ने बताया कि हत्या के पीछे पुरानी रंजिश प्रतीत होती है।आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं।