Home अपना उत्तराखंड उत्तराखंड के कॉलेजों में खत्म होगा सेमेस्टर सिस्टम : त्रिवेंद्र

उत्तराखंड के कॉलेजों में खत्म होगा सेमेस्टर सिस्टम : त्रिवेंद्र

361
SHARE
प्रदेश में ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों में सेमेस्टर सिस्टम जल्द खत्म होगा। मंगलवार को एबीवीपी के सचिवालय कूच के बाद प्रतिनिधिमंडल ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात की। सीएम ने प्रतिनिधिमंडल को जल्द सेमेस्टर सिस्टम खत्म करने का आश्वासन दिया है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय की पहल के बाद यूजीसी ने 2015-16 सत्र से देश में क्रेडिट बेस्ड च्वाइस सिस्टम (सीबीसीएस) पेश किया था। इसके तहत वार्षिक पैटर्न पर चलने वाले ग्रेजुएशन के कोर्स भी सेमेस्टर पैटर्न पर आ गए थे। इसके अलावा सभी पाठ्यक्रमों में मॉडर्न इंडियन लैंग्वेज जैसे तमाम बदलाव लागू किए गए थे।

सेमेस्टर सिस्टम से कॉलेजों में व्यवस्थाएं लड़खड़ाने लगीं
उत्तराखंड में भी ग्रेजुएशन में सेमेस्टर सिस्टम बीते तीन वर्षों के भीतर लागू किया गया। गढ़वाल विवि ने सेमेस्टर सिस्टम एडॉप्ट किया तो इससे संबद्ध कॉलेजों में व्यवस्थाएं लड़खड़ाने लगीं, जिन विषयों में छात्र पढ़ रहे थे, उनके शिक्षक ही नहीं थे।

एबीवीपी ने सेमेस्टर सिस्टम के विरोध में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री का पुतला फूंकने का अभियान चलाया। इसके बाद मंगलवार को सचिवालय कूच किया। एबीवीपी के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री श्रीनिवास ने डीएवी कॉलेज में छात्रों को संबोधित करते हुए सरकार को चेतावनी दी। सचिवालय से ठीक पहले पुलिस ने एबीवीपी कार्यकर्ताओं को रोक लिया।

इसके बाद एक प्रतिनिधिमंडल ने सचिवालय में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात की। सीएम ने आश्वासन दिया कि जल्द ही सेमेस्टर सिस्टम खत्म करने के लिए कैबिनेट में प्रस्ताव लाया जाएगा। शाम को डीएवी कॉलेज चौक पर एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने जमकर पटाखे छोड़े।