Home खास ख़बर अनलॉक-1 के बाद बढ़ी लापरवाही चिंता का कारण- पीएम मोदी।

अनलॉक-1 के बाद बढ़ी लापरवाही चिंता का कारण- पीएम मोदी।

270
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित किया। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने देशवासियों से अपना ख्याल रखने को कहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ते-लड़ते अब हम अनलॉक-2 में प्रवेश कर रहे हैं। हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं, जिसमें सर्दी, जुकाम, बुखार होता है ये मामले बढ़ जाते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जब से अनलॉक शुरू हुआ है, लोगों में लापरवाही बढ़ गई है। पहले हम बहुत सतर्क थे, लेकिन आज जब ज्यादा सतर्कता की जरूरत है तो लापरवाही बढ़ना चिंता का कारण है। उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ते हुए भारत में 80 करोड़ लोगों को तीन महीने का राशन मुफ्त दिया गया है। इसके अतिरिक्त प्रत्येक परिवार को हर महीने एक किलो दाल भी दी गई, बीते तीन महीनों में जनधन खातों में 31 हजार करोड़ रुपये जमा करवाए गए।

यह भी जानें- मेट्रो, स्कूल-कॉलेज, कोचिंग और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को 31 जुलाई तक बंद रखने का फैसला।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरे देश में एक राशनकार्ड पर काम किया जाएगा, आज अगर सरकार सबको राशन दे रही है तो उसका क्रेडिट अन्नदाता किसान औऱ दूसरा ईमानदार टैक्सपेयर को जाता है। आपने देश का अन्न भंडार भरा है, इसलिए आज गरीब का चूल्हा जल रहा है। आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपना दायित्व निभाया है इसलिए आज देश का गरीब संकट से मुकाबला कर पा रहा है। मैं हर किसान और करदाता को धन्यवाद देता हूं। आने वाले समय में हम अपने प्रयासों को और तेज करेंगे, हम सभी को सशक्त करने के लिए निरंतर काम करेंगे।

पीएम ने कहा कि त्योहारों का समय खर्च भी बढ़ाता है. फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दिवाली और छठ पूजा तक, यानी नवंबर के आखिरी तक कर दिया जाएगा। वर्षा ऋतु के बाद कृषि क्षेत्र में ज्यादा काम होता है, जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनता है। सावन शुरू हो रहा है, रक्षाबंधन आएगा, कृष्ण जन्माष्मी आएगी। प्रत्येक परिवार को हर महीने पांच किलो गेहूं या चावल और एक किलो चना दिया जाएगा। इसमें 90 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होंगे, पिछले महीने का खर्च भी जोड़ दें तो करीब 1.5 लाख करोड़ हो जाता है । पीएम ने कहा कि कोरोना से लड़ते हुए भारत में 80 करोड़ लोगों को तीन महीने का राशन मुफ्त दिया गया है. इसके अतिरिक्त प्रत्येक परिवार को हर महीने एक किलो दाल भी दी गई। किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये जमा हुए। पीएम मोदी ने कहा कि देश हो या व्यक्ति समय पर और संवेदनशीलता से फैसला लेने पर संकट का मुकाबला करने की शक्ति अनेक गुना बढ़ जाती है। इसलिए लॉकडाउन होते ही सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लेकर आई, इस योजना के तहत गरीबों के लिए पौने दो लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया। बीते तीन महीनों में जनधन खातों में 31 हजार करोड़ रुपये जमा करवाए गए, 9 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये जमा हुए हैं।