Home उत्तराखंड श्रीदेवसुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. पी. पी. ध्यानी की मुख्यमंत्री ने की...

श्रीदेवसुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. पी. पी. ध्यानी की मुख्यमंत्री ने की तारीफ।

282
SHARE

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने श्रीदेवसुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. पी. पी. ध्यानी के कामकाज की प्रशंसा की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुलपति डॉ. पी. पी. ध्यानी ने विश्वविद्यालय कर्मचारियों के एक घंटा अधिक कार्य करने की एक स्वस्थ परंपरा की शुरूआत कर अनुकरणीय उदाहरण पेश किया है। सभी विभागों को उनके इस कार्य से प्रेरणा लेते हुए अपने विभाग के प्रति जिम्मेदारी को समझना चाहिए।

बता दें कि श्रीदेवसुमन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. पी. पी. ध्यानी ने स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अपने सभी साथी शिक्षकों, कर्मचारियों के साथ एक घंटा अधिक कार्य करने की परंपरा की शुरूआत की थी। जिसके बाद विश्वविद्यालय के कार्यदिवसों में प्रतिदिन 1 घंटा अधिक कार्य किया जाने लगा।

डॉ. पी. पी. ध्यानी ने विश्वविद्यालय के कुलपति का कार्यभार संभालने के बाद से ही विश्वविद्यालय हित में कडे कदम उठाए और विश्वविद्यालय को नई ऊंचाईयां प्रदान करने की दिशा में काम किया, कुलपति ने इस बीच कुछ खडे फैसले भी लिए जिसमें विश्वविद्यालय से अनुपस्थित रहने वाले रजिस्ट्रार के खिलाफ कार्रवाई भी शामिल है। वहीं कुलपति ने विश्वविद्यालय से हटाए गए कर्मचारियों का वेतन समय पर जारी नहीं किए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए अपने व विवि के अधिकारी कर्मचारियों के वेतन पर अनिश्चितकाल के लिए रोक लगा दी थी। जिसमें उन्होंने साफ कहा था कि जब हमें भी समय पर वेतन जारी नहीं होगा तब हमें इस बात का एहसास होगा।

डॉ. पी. पी. ध्यानी द्वारा किए गए इन कार्यों की जानकारी जब मुख्यमंत्री तक पहुंची तो मुख्यमंत्री अपने आप को उनकी तारीफ करने से नहीं रोक पाए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत अपने आवास पर सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर आयोजित पराक्रम दिवस कार्यक्रम में ये बातें कही।