Home खास ख़बर जल्दी ही वॉट्सऐप से ट्रांसफर कर सकेंगे रकम!

जल्दी ही वॉट्सऐप से ट्रांसफर कर सकेंगे रकम!

1234
SHARE
मेसेजिंग ऐप्लिकेशन वॉट्सऐप पर जल्दी ही आपको मनी ट्रांसफर की सुविधा भी मिल सकती है। वॉट्सऐप ने भारतीय बैंकों और अन्य संस्थानों से इस बारे में बात शुरू कर दी है कि उसके यूजर्स को यूपीआई के जरिए मनी ट्रांसफर की सुविधा दी जाए। बैंकों की मंजूरी मिलने के बाद आप वॉट्सऐप से ही अपने किसी मित्र या परिजन के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकेंगे।

2/7​ SBI से चल रही बातचीत

​ SBI से चल रही बातचीत

अपने प्लैटफॉर्म पर पेमेंट्स की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी एसबीआई, नैशनल पेमेंट्स कमिशन ऑफ इंडिया और अन्य वित्तीय संस्थानों से इस बारे में बात कर रही है।
3/7​ आसान होगा मनी ट्रांसफर

​ आसान होगा मनी ट्रांसफर

पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन की ओर से 2016 में शुरू की गई यूपीआई (युनाइटेड पेमेंट्स इंटरफेस) का संचालन फिलहाल एनसीपीआई के हाथों में हैं। बैंक अधिकारियों ने बताया कि वॉट्सऐप अभी अपने मंच पर यूपीआई फैसिलिटी उपलब्ध कराने को लेकर शुरुआती बातचीत कर रहा है। इसे मंजूरी मिलने पर सभी बैंकों को अपने सिस्टम को वॉट्सऐप से इंटीग्रेट करना होगा।
4/7​ ऐसे करेगा काम

​ ऐसे करेगा काम

 एक प्राइवेट के बैंक के एग्जिक्यूटिव ने बताया, ‘मेसेंजर अड्रेस बॉक्स को आइडेंटिफाई करता है। इसी तरह यूपीआई के जरिए आसानी से एक अकाउंट से दूसरे में मनी ट्रांसफर हो जाता है।’ अधिकारी ने बताया, ‘वॉट्सऐप प्राप्तकर्ता की पहचान करेगा और यूपीआई के जरिए दो पार्टियों के बीच फंड ट्रांसफर हो सकेगा।’
5/7ट्रूकॉलर और हाइक मेसेंजर ने अपनाई यह तकनीक

ट्रूकॉलर और हाइक मेसेंजर ने अपनाई यह तकनीक

 आईसीआईसीआई बैंक के साथ काम कर रहे ट्रूकॉलर ने पहले ही ऐसी तकनीक को अपनाया है। इसके अलावा हाइक मेसेंजर ने भी यस बैंक के साथ मिलकर यूपीआई बेस्ड पेमेंट्स की शुरुआत की है। ऐप्लिकेशंस के जरिए फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया आसान
6/7​ यह कितना सुरक्षित होगा?

​  यह कितना सुरक्षित होगा?

 इस बात को लेकर भी चर्चा चल रही है कि यह मनी ट्रांसफर कन्जयूमर किस तरह से कर सकेंगे। इस बात पर चर्चा हो रही है कि पेमेंट वॉट्सऐप के जरिए होगी या फिर पेमेंट गेटवे पेज पर पेमेंट मोड के जरिए होगी।
7/7​ उपयोगी होगा वॉट्सऐप

​ उपयोगी होगा वॉट्सऐप

केंद्र सरकार के डिजिटल इकॉनमी के अभियान में यूपीआई अहम हिस्सा है। 2016-17 में इस प्लैटफॉर्म पर 7,0000 करोड़ रुपये का ट्रांजैक्शन हुआ। यह प्रयास इसलिए भी अहम है क्योंकि वॉट्सऐप के 20 करोड़ यूजर हैं।