Home उत्तराखंड सोमवार देर रात गुजरात से काठगोदाम पहुंचे 12 सौ प्रवासी।

सोमवार देर रात गुजरात से काठगोदाम पहुंचे 12 सौ प्रवासी।

585
SHARE

सोमवार देर रात गुजरात के सूरत समेत अन्य शहरों में फंसे उत्तराखंड के 12 सौ प्रवासियों को लेकर ट्रेन काठगोदाम पहुंची। ट्रेन के काठगोदाम पहुंचते ही यात्रियों के चेहरों पर सुकून नजर आया। ट्रेन पहुंचते ही पुलिस आरपीएफ प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीमें अलर्ट हो गई। गेट पर ही स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने उनकी स्क्रीनिंग की। इसके बाद अलग-अलग गेटों से निकासी कर उन्हें बसों के जरिए क्वारंटाइन सेंटरों में ले जाया गया, जहां जलपान और खाना दिया गया।

गुजरात से आई ट्रेन में 16 कोच और दो एसएलआर थे। हर कोच में अलग-अलग जिले के प्रवासी बैठे थे। ट्रेन तय समय से करीब डेढ़ घंटे देरी से आई, जांच और सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल पूरे करने के बाद प्रवासी बाहर निकले तो सभी के चेहरे पर राहत के भाव नजर आए। प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखते बसों से उन्हें क्वारंनटाइन सेंटर पहुंचाया।

प्रशासन ने गुजरात से लौटे प्रवासियों के रात रूकने के लिए दो जगह व्यवस्था की, नैनीताल जिले के यात्रियों को जैस्मिन होटल भेजा गया। अन्य यात्रियों को गोलापार स्थित स्टेडियम भेजा गया, पर्वतीय जिलों के प्रवासियों को आज सुबह उनके जिलों को भेजा जा रहा है। ट्रेन में सबसे अधिक यात्री नैनीताल जिले से थे।
अल्मोड़ा से 123, बागेश्वर से 291, पिथौरागढ़- चंपावत से 260, नैनीताल 510, ऊधमसिंहनगर जिले से 16 यात्री थे।