Home उत्तराखंड सोमवती अमावस्या पर हरिद्वार में गंगा स्नान नहीं कर सकेंगे श्रद्धालु।

सोमवती अमावस्या पर हरिद्वार में गंगा स्नान नहीं कर सकेंगे श्रद्धालु।

383
SHARE

कोरोना महामारी का असर प्रमुख तीर्थ स्थलों पर आवाजाही के साथ ही प्रमुख तीर्थ स्नानों पर भी पड़ा है। कोरोना महामारी के मद्देनजर इस वर्ष कांवड यात्रा को पहले ही स्थगित कर दिया गया तो नहीं अब सोमवती अमावस्या पर श्रद्धालुओं के हरिद्वार आने पर रोक लगा दी है। प्रशासन ने इस पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही 20 जुलाई तक के लिए हरिद्वार जिले की सीमाओं को सील कर दिया है।

डीजी लॉ एंड आर्डर उत्तराखण्ड अशोक कुमार ने बताया कि 20 जुलाई को सोमवती अमावस्या पड़ रही है, विगत वर्षों में करीब 40 से 50 लाख तीर्थ यात्री इस दिन स्नान के लिए हरिद्वार आते रहे हैं। इस वर्ष कोविड-19 को देखते हुए हरिद्वार प्रशासन ने इसकी अनुमति नहीं दी है। उन्होंने कहा कि यदि इतनी बड़ी संख्या में लोग हरिद्वार पहुंचेंगे तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना संभव नहीं है। इनमें से यदि कोई भी कोरोना संक्रमित पाया गया तो कोरोना के फैलने की आशंका बढ़ जाएगी, इसी के मद्देनजर इसकी अनुमति नहीं दी गई है। उन्होंने देश भर तमाम तीर्थ यात्रियों से अपील करते हुए कहा कि इस बार सोमवती अमावस्या पर हरिद्वार न आएं।

हरिद्वार के एसएसपी सैंथिल अबूदई के राज ने साफ किया कि कोरोना महामारी के फैलाव को देखते हुए हरिद्वार जिले की सीमाओं को 20 जुलाई तक के लिए सील कर दिया गया है। पड़ोसी राज्यों से कोई भी हरिद्वार में प्रवेश नहीं कर सकेगा। यह भी तय किया गया है कि 20 जुलाई को सोमवती अमावस्या के दिन कोई भी गंगा स्नान नहीं कर सकेगा। गंगा के किसी भी घाट पर सोमवती अमावस्या का स्नान नहीं होगा। वही स्थानीय लोगो को भी स्नान की मनाही रहेगी।