Home उत्तराखंड सरकार को कड़े कदम उठाने को मजबूर न करें लोग- मुख्यमंत्री

सरकार को कड़े कदम उठाने को मजबूर न करें लोग- मुख्यमंत्री

395
SHARE

लॉकडाउन के पहले दिन से सबक लेकर उत्तराखंड सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सुबह सात से दस बजे तक ही आवश्यक वस्तुओं की दुकानें, एटीएम और बैंक खोलने का आदेश जारी किया। लेकिन मंगलवार को भी सुबह सात बजे ही सब्जी मंडी और किराने की दुकान में लोगों की भीड़ जमा हो गई। रिक्शे में भर कर लोग राशन और सब्जी ले गए। देहरादून सहित अन्य शहरों में भी यही हाल दिखाई दिया। लोग दुकानों की ओर दौड़ पड़े।

 

नैनीताल के मल्लीताल क्षेत्र में मच्छी बाजार जैसा नज़ारा था, राशन, सब्जी मेडिकल हर ज़रूरत के सामानों की दुकानों में भेड़ बकरियों की तरह लोग नज़र आये, इतनी हिदायतों के बाद भी लोग खरीदारी करने के लिए जगह जगह भीड़ इक्कठी करने से बाज नही आये, 7 से 10 तक सिर्फ ज़रूरत का सामान लेने ही लोगों को छूट दी गयी थी इसका फायदा उन लोगों ने भी उठाया जो सर्फ टहलने के लिए बाहर निकले थे।

इस स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्विटर के माध्यम से कहा है कि सरकार लोगों का पूरा ध्यान रख रही है। लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। जो भी जरूरी चीजें होंगी वो आपके घरों तक पहुंचा दी जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर लोग नहीं माने तो उनको कडे कदम उठाने पड़ सकते हैं। उन्होंने कहा क् आप अपने घरों में रहें सुरक्षित रहें, सरकार को कडे कदम उठाने पर मजबूर ना करें।