Home उत्तराखंड एसजीआरआर पीजी कॉलेज में भारत को आत्मनिर्भऱ बनाने में विज्ञान की भूमिका...

एसजीआरआर पीजी कॉलेज में भारत को आत्मनिर्भऱ बनाने में विज्ञान की भूमिका विषय पर वेबिवार।

250
SHARE

श्री गुरु राम राय पी जी कॉलेज के रसायन विज्ञान विभाग ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने में विज्ञान की भूमिका विषय पर एक दिवसीय वेबिनार का आयोजन किया।वेबिनार का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो.वी ए. बौड़ाई, स्पेक्स के सचिव डॉ. बृजमोहन शर्मा, रसायन विज्ञान विभाग की प्रभारी डॉ दीपाली सिंघल और आयोजन सचिव डॉ संदीप नेगी ने संयुक्त रूप से किया। उद्घाटन के अवसर पर प्रो.वी ऐ बौड़ाई ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया और विज्ञान की उपयोगिता के बारे में अपने विचार व्यक्त किये।

वेबिनार के आयोजन सचिव डॉ संदीप नेगी ने वेबिनार की रूपरेखा एवं उपयोगिता के बारे में बताया। वेबिनार के मुख्य वक्ता सोसाइटी ऑफ पॉल्युशन एंड एनवायर्नमेंटल कंजर्वेशन साइंटिस्ट्स, स्पेक्स, के मुख्य कार्यकारी एवं सचिव डॉ. बृजमोहन शर्मा ने अपने व्याख्यान में रसायन विज्ञान के छोटे-छोटे प्रयोगों का प्रयोग करके आत्मनिर्भर बनने पर जोर डाला। डॉ शर्मा ने कहा रसायन विज्ञान के विद्यार्थी आजकल सैनिटाइजर और सरफेस क्लीनर को बहुत ही कम दामो में अपनी प्रयोगशाला में इथाइल अल्कोहल का प्रयोग कर बना सकते है।

खाद्य पदार्थों में होने वाली मिलावट की घर बैठे कैसे जांच की जा सकती है, इस पर उन्होंने विस्तार से चर्चा की। उन्होंने एलइडी लाइट को बहुत कम लागत में बनाने एवं स्वयं मरम्मत करके ठीक करने की विधा भी बताई। वेबिनार में हेमवती गढ़वाल विश्वविद्यालय एवं उससे सम्बद्ध कॉलेज के छात्र-छात्राओं के साथ उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं ने भी प्रतिभाग किया।

वेबिनार के समापन में डॉ. हर्षवर्धन पन्त ने सभी प्रतिभागियों एवं मुख्य अतिथि को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के डॉ. राकेश ढौंडियाल, डॉ हरीश चंद्रा, डॉ अनुभव प्रताप, डॉ आनंद कुमार, डॉ विवेक कुमार, डॉ श्यामवीर सिंह, डॉ मनोज बलूनी और डॉ मेहरबान सिंह गुसाईं उपस्थित थे।