Home उत्तराखंड लॉकडाउन के कारण नाते रिश्तेदारी में फंसे लोगों की हो सकेगी घर...

लॉकडाउन के कारण नाते रिश्तेदारी में फंसे लोगों की हो सकेगी घर वापसी।

617
SHARE

प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक के जरिए प्रदेशवासियों को संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 3 मई तक लॉकडाउन-2 चल रहा है और प्रदेश की जनता ने लॉकडाउन का बहुत अच्छे से पालन किया है, जिसके लिए सभी प्रदेशवासी बधाई के पात्र हैं, और उम्मीद करता हूं कि आगे भी इसी तरह आप सब इसका पालन करेंगे।

 

उन्होंने कहा कि हमने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि आप मानवीय व व्यावहारिक आधार पर अपने जिले में लोगों को जो भी सुविधाएं हो सके वह मुहैया कराएं। उन्होंने कहा कि इस महामारी के बीच हमारे पुलिस के जवान, स्वास्थ्य कर्मी, आशा कार्यकत्री लगातार अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं, हमारा भी फर्ज बनता है कि हम ऐसे कोरोना वारियर्स का हौंसला बढाएं। उन्होंने जनता से अपील करते हुए उन्हें पानी, चाय, नाश्ते के लिए पूछें उनका हालचाल जरूर जानें।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में शादी ब्याहों का सीजन शुरू हो गया है। हमने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि शादी ब्याह वाले परिवारों को सामाजिक दूरी का पालन करते हुए शादी-ब्याह की इजाजत दी जाए। शादी-ब्याह की इजाजत नहीं मिली ऐसी शिकायतें न आएं।

कोरोना वायरस (COVID-19) के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण बातें एवं प्रदेशवासियों से अपील। #IndiaFightsCorona#Lockdown2

Posted by Trivendra Singh Rawat on Monday, April 20, 2020

 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने निर्देश दिए हैं कि रिश्तेदारी या अन्य वजह से लॉकडाउन में फंसे लोगों को स्वास्थ्य परीक्षण के बाद ग्रीन कैटेगिरी के जिले में जाने की अनुमति दी जाए। इसके अलावा राज्य के बाहर से आए जिन लोगों ने क्वारंटीन के 14 दिन पूरे कर लिए हैं, उनको स्वास्थ्य जांच के बाद घर भेजा जाए।