Home उत्तराखंड रामनगर- स्पेशल ट्रेनें तो चली, पर इस कारण बढ़ गया किराया।

रामनगर- स्पेशल ट्रेनें तो चली, पर इस कारण बढ़ गया किराया।

566
SHARE

रेलवे ने त्यौहारों के मद्देनजर कई रूटों पर ट्रेन सेवा शुरु कर दी है। जिससे की यात्रियों को त्यौहार के मौके पर घर आने-जाने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। उत्तराखण्ड के रामनगर रेलवे स्टेशन से भी दो पूजा स्पेशल ट्रेनें शुरू की गई हैं, फिलहाल इन ट्रेनों का संचालन 30 नवंबर तक होना है। इसके बाद रेलवे इन्हें नियमित कर सकता है। लॉकडाउन के बाद से ही रामनगर से ट्रेनों का संचालन बंद था, लगभग 6 महीने से अधिक समय बाद 16 अक्टूबर से रामनगर-बांद्रा टर्मिनल सुपरफास्ट ट्रेन शुरु की गई है। साथ ही 20 अक्टूबर से रामनगर-आगरा फोर्ट ट्रेन का संचालन भी शुरू हो चुका है।

फिलहाल यह दोनों ट्रेनें पूजा स्पेशल ट्रेनों के नाम से संचालित की जा रही हैं। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए इन दोनों ट्रेनों में जनरल कोच की व्यवस्था खत्म कर दी गई है। जनरल कोच की जगह टू-एस के नाम से स्लीपर की तरह टिकट बुकिंग की जा रही है। यह कहने को तो स्लीपर है, लेकिन इनमें ट्रेनों के कम सुविधा वाले जनरल डिब्बे ही लगे हैं, लेकिन इनमें यात्रा करने वाले यात्रियों को इसमें जनरल कोच की अपेक्षा अधिक किराया चुकाना होगा।

पूर्व के जनरल टिकट की तुलना करें तो रेलवे ने रामनगर-बांद्रा टर्मिनल के टू-एस किराये में 55 रूपए की बढोतरी कर दी है। इसी तरह रामनगर-आगरा फोर्ट एक्सप्रेस में 45 रूपए अतिरिक्त लिए जा रहे हैं। हालांकि स्लीपर, एसी सेकंड, एसी थर्ड के किराये में कोई बदलाव नहीं किया है। यात्री को यात्रा करने से आधा घंटे पहले तक अपना टिकट बुक कराना अनिवार्य है, वहीं वेटिंग टिकट इन ट्रेनों में मान्य नहीं है।