Home उत्तराखंड रामनगर- बीडीओ के खिलाफ पंचायत प्रतिनिधियों में बढ़ा आक्रोश, बीडीओ को हटाने...

रामनगर- बीडीओ के खिलाफ पंचायत प्रतिनिधियों में बढ़ा आक्रोश, बीडीओ को हटाने की मांग को लेकर ब्लॉक प्रमुख भी बैठी धरने पर।

266
SHARE

रामनगर ब्लॉक में बीते शनिवार को 26 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने बीडीओ की कार्यप्रणाली से खफा होकर सामूहिक इस्तीफा दे दिया था। ब्लॉक में अब यह संकट और अधिक गहरा गया है। आज ब्लॉक प्रमुख रेखा रावत भी इन क्षेत्र पंचायत सदस्यों के समर्थन में आ गई हैं। क्षेत्र पंचायत सद्स्यों ने आज प्रधान संगठनों को भी साथ लेकर जामनगर विकास खंड में तालाबंदी कर खण्ड विकास अधिकारी नारायण दत्त भट्ट को हटाने की मांग की है।

ब्लॉक प्रमुख रेखा रावत ने कहा कि खण्ड विकास अधिकारी क्षेत्र पंचायत सदस्यों को त्वज्जो नहीं दे रहे हैं, रोज नए-नए नियम गिनाते हैं। जिससे कोई भी जनप्रतिनिधि क्षेत्र में विकास कार्यकराने में असमर्थ है। उन्होंने कहा कि यह सीधे तौर पर सरकार को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। जब तक क्षेत्र पंचायत सदस्यों की मांग पूरी नहीं हो जाती तब तक तालाबंदी जारी रहेगी।

वहीं ज्येष्ठ प्रमुख संजय नेगी ने कहा कि पंचायत चुनाव को लगभग एक वर्ष पूरा हो चुका है, एक साल से क्षेत्र पंचायत विकास कार्यों के लिए खंड विकास अधिकारी के पास जाते रहे हैं। लेकिन क्षेत्र पंचायत सदस्यों से ग्राम प्रधानों की तरह या और पंचायत प्रतिनिधियों की तरह व्यवहार नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में ब्लॉक प्रमुख के माध्यम से भी खण्ड विकास अधिकारी से बातचीत की गई लेकिन उनके द्वारा कोई ठोस जवाब नहीं दिया गया। जिस कारण 26 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने अपना इस्तीफा दे दिया।

उन्होंने कहा कि समस्त क्षेत्र पंचायत सदस्यों का मानना है कि यदि हम अपने क्षेत्र में विकास कार्य नहीं करा पा रहे हैं तो पद पर रहकर क्या करना है। संजय नेगी ने कहा कि हमारी मांग है कि खण्ड विकास अधिकारी को यहां से हटाया जाए और क्षेत्र पंचायत सदस्य पूर्व की तरह विकास कार्य कर सकें। उन्होंने कहा कि जब तक हमारी यह मांग पूरी नहीं होती तब तक हम यहां धरना और तालाबंदी करेंगे आज समस्त प्रधान संगठनों ने भी हमें अपना सहयोग दिया है।