Home खास ख़बर रात को सोने से पहले जमकर लें प्रोटीन नहीं बढ़ेगा बेली फैट…

रात को सोने से पहले जमकर लें प्रोटीन नहीं बढ़ेगा बेली फैट…

466
SHARE

हमेशा ऐसी सलाह दी जाती है कि सुबह का नाश्ता दिन का सबसे भारी होनी चाहिए, जिसे आम भाषा में किंग साइज बोलते हैं जबकि हमेशा रात को हल्का खाना चाहिए। लोग आमतौर पर ऊर्जा बढ़ाने के लिए सुबह में हाई प्रोटीन फूड का सेवन करते हैं और उन्हें रात को खाने से बचते हैं। लेकिन एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि रात को सोते वक्त प्रोटीन युक्त स्नैक का सेवन कोई बुरा विचार नहीं है। जर्नल ‘न्यूट्रिशन’ में प्रकाशित इस अध्ययन में विशेषकर उन महिलाओं में रात को खाने, वजन बढ़ने और मेटाबॉलिज्म के समय के बीच संबंधों का अध्ययन किया गया, जो सक्रिय जीवनशैली जी रही थीं।

अध्ययन के निष्कर्षों में खुलासा हुआ कि दिन के मुकाबले रात में प्रोटीन का सेवन रात भर चलने वाली पाचन प्रक्रिया और बेली फैट मेटाबॉलिज्म पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं डालता। अध्ययन के लेखक, कॉलेज ऑफ ह्यूमन साइंज में सहायक प्रोफेसर और एफएसयू इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट साइंसेज एंड मेडिसिन के सहायक निदेशक माइकल ओर्मस्बी का कहना है कि लंबे अरसे से लोगों का मानना रहा है कि रात को सोने से पहले खाना खाना मेटाबॉलिज्म में गड़बड़ी का कारण बन सकता है और वजन बढ़ा सकता है।

उन्होंने कहा कि हमारा डेटा इसका समर्थन नहीं करता है। अगर  आप रात को सोने से पहले प्रोटीन युक्त आहार लेते हैं या फिर हल्का भोजन करते हैं तो इससे आपका न तो मेटाबॉलिज्म प्रभावित होगा और न ही आपका बेली फैट पड़ेगा। शोधकर्ताओं की टीम ने महिला वजन प्रशिक्षकों और प्रोटीन लेने की दो स्थितियों को साथ लेकर अध्ययन किया। पहली स्थिति में महिलाओं को वर्कआउट के 30 मिनट बाद प्रोटीन शेक पिलाया गया और रात को सोने से 30 मिनट पहले  प्लेसबो शेक दिया गया। वहीं दूसरी स्थिति में महिला प्रशिक्षकों के साथ ठीक इसके उलट किया गया।

अध्ययन के मुताबिक, टीम ने इसके बाद अध्ययन में शामिल हुई प्रतिभागियों पर रात भर हुए फैट मेटाबॉलिज्म का आकलन किया। उन्होंने यह जानने का प्रयास किया कि क्या प्रोटीन लेने का समय फैट कोशिकाओं द्वारा फैट रिलीज करने से जुड़ा हुआ है या नहीं। इतना ही नहीं इसके साथ उन्होंने  उनकी बॉडी की फैट रिलीज करने की क्षमता का भी अध्ययन किया क्योंकि मांसपेशियों में ऊर्जा होती हैं।

चिकित्सा विज्ञान, अरकंसास चिल्ड्रन न्यूट्रिशन सेंटर और अरकंसास विश्वविद्यालय में पोस्टडॉक्टरल फेलो ऑलमैन का कहना है कि वे महिलाएं, जो जिम या शारीरिक गतिविधियां करती हैं वे चाहे दिन में प्रोटीन शेक पीएं या फिर रात को सोने से पहले इससे उनके फैट मेटाबॉलिज्म और पूरी बॉडी के फैट बर्न प्रक्रिया पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। इसलिए आप सोने से पहली प्रोटीन ले सकती हैं और इससे आपका फैट मेटाबॉलिज्म भी प्रभावित नहीं होगा।