Home उत्तराखंड प्रदेश में इन क्षेत्रों को घोषित किया गया है कंटेनमेंट जोन।

प्रदेश में इन क्षेत्रों को घोषित किया गया है कंटेनमेंट जोन।

1382
SHARE

उत्तराखण्ड़ में भी लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। जिसे देखते हुए प्रदेश में शासन ने कई सख्त कदम भी उठाए हैं। प्रेदश को तीन जोन रेड,आरेंज व ग्रीन श्रेणी में बांटा है, तो वहीं कुछ कंटेनमेंट जोन भी घोषित किए हैं। कंटेनमेंट जोन में आवाजाही पर पूर्ण रूप से रोक लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 4 जून तक जारी अपडेट के अनुसार प्रदेश में अब तक 39 कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए हैं। जिसमें सबसे अधिक 18 देहरादून जनपद में तथा 17 हरिद्वार जनपद में बनाए गए हैं। वहीं पौड़ी व टिहरी जनपद में भी 2-2 कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए हैं।

जिलेवार कंटेनमेंट जोन-

देहरादून जनपद में-गुरु रोड़, पटेल नगर देहरादून। बैराज कॉलोनी, सिंचाई विभाग ऋषिकेश। ईडब्लूएस ब्लॉक, एमडीडीए कॉलोनी, आईएसबीटी देहरादून। प्रेमबत्ता गली, संतोवाली घाटी देहरादून। डी-ब्लॉक, सिंचाई विभाग, परियोजना खंड़ नगर निगम ऋषिकेश। डांडीपुरा कॉलोनी, देहरादून। रेसकोर्स देहरादून। आदर्श नगर लेन नं-9, जालीग्रांट डोईवाला। गली नं.34, शिवाजी नगर ऋषिकेश। बीस बीघा, ऋषिकेश। वार्ड नं. 13, ग्राम लाइन जीवनगढ़ विकासनगर। वार्ड नं. 19 हरबर्टपुर, विकासनगर। ग्राम फतेहपुर टांडा डोईवाला। हरिपुरकला, बस्ती वार्ड नं.2, मोतीचूर लाईन। सर्कुलर रोड़ डालनवाला। ओम सार्थक अपार्टमेंट, सेवालाकलां देहरादून। ब्रहमपुरी पटेलनगर। कलिंगा कॉलोनी आराघर।

हरिद्वार जनपद में- खाता खेरी, भगवानपुर। सती मोहल्ला वार्ड नं.34, नगर-निगम रुड़की। मातावाला मोहल्ला, वार्ड नं.8 नगर पंचायत लंढ़ौरा। वार्ड़ नं.-12,मो.पुर, मोहनपुरा नगर निगम रूड़की। मुंडा खेरा कलां लक्सर। दर्गापुर लक्सर।आदर्श नगर, नगर-निगम रूड़की। ग्राम दबकी, लक्सर। ग्राम-दादुपुर, गोविंदपुर हरिद्वार। हजरत बिलाल मोहल्ला, वार्ड नं-6 लंढ़ौरा मंगलौर। ग्रीन पार्क कॉलोनी रूड़की। वैष्णवी अपार्टमेंट कनखल। जसविंदर एंनक्लेव, भागीरथी वार्ड नं.1 हरिद्वार। ग्राम- अलावालपुर लक्सर। ग्राम- दनौरी, तहसील- रूड़की। वार्ड नं.5 पीडब्लूडी कॉलोनी तहसील रूड़की।

पौड़ी जनपद में- ग्राम पिपली, ब्लॉक पाबौ पौड़ी। ग्राम- सतपाली पट्टी, चौबट्टाखाल पौड़ी।

टिहरी जनपद से- ग्राम भाटी मगधार, तहसील घनसाली। ग्राम-लंमनीधार, तहसील जाखड़ीधार इन क्षेत्रों को प्रशासन द्वारा पूर्ण रूप से सील किया गया है।