Home उत्तराखंड फूलदेई का त्यौहार आज।

फूलदेई का त्यौहार आज।

459
SHARE

उत्तराखंड में साल भर में विभिन्न त्यौहार मनाए जाते हैं। हर त्यौहार का अपना अलग महत्व है। इन त्यौहारों में एक त्यौहार फूलदेई भी है। चैत माह की पहली तिथि तो फूलदेई का त्यौहार बड़े उल्लास के साथ मनाया जाता है। यह त्यौहार बच्चों का विशेष त्यौहार है, इस दिन बच्चे थालियों व रिंगाल की टोकरियों में फूलों को सजाकर गांव के हर परिवार के आंगन में जाकर देहली पर फूल चढ़ाते हैं, और उसके बदले बच्चों को आशीष के रूप में चावल, गुड़, रुपये मिलते हैं।

 

इस वर्ष भी फूलेदेई का त्यौहार 14 मार्च को मनाया जायेगा। कल सुबह की पहली किरण के साथ बच्चे बुरांश,भिटोर, फ्यूँली, आड़ू, खुमानी के फूल लेकर गांव में घर-घर की देहरी पूजने निकल पड़ेंगे। फूलदेई, छम्मा देई, दैंणी द्वार, भर भकार,य देई में हो, खुशी अपार, जुतक देला, उतुक पाला, य देई कैं, बारम्बार नमस्कार गाते हुए बच्चे गांव के हर परिवार के आंगन में पहुंचेंगे।

 

उत्तराखण्ड़ के पहाड़ों से हुए पलायन की मार इन त्यौहारों पर भी पड़ी है। उत्तराखण्ड़ के गांव साल दर साल खाली हो रहे हैं, गांव की देहरी भी सूनी हो रही हैं। गावों में जो देहरी आबाद हैं उनके भीतर बस बुजुर्ग बसे हैं। जिसके कारण फूलदेई के दिन गांव के बुजुर्ग ही अपनी देहरी में फूल और चावल चढ़ा कर त्यौहार की रस्म अदायगी पूरी करते नजर आते हैं। शहर और कस्बों में बस चुके पहाड़ी परिवारों के पास इतना समय नहीं की गांव के इस त्यौहार के लिये समय निकाल सकें।