Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा प्रमोशन में आरक्षण समाप्त करने को लेकर लगाई जागर, गोल्ज्यू देवता ने...

प्रमोशन में आरक्षण समाप्त करने को लेकर लगाई जागर, गोल्ज्यू देवता ने कहा 22 दिन के भीतर मांग होगी पूरी।

647
SHARE
www.uihmt.com
उत्तराखंड के अल्मोड़ा में चितई गोल्ज्यू मंदिर स्थित है, उत्तराखंड में गोल्ज्यू देवता को न्याय का देवता माना जाता है। उत्तराखंड में जब हरीश रावत सरकार गिर गई थी, तब हरीश रावत ने भी गोल्ज्यू के मंदिर में न्याय की फरियाद लगाई थी और वह अपनी सरकार बचाने में सफल रहे थे। अब प्रदेश की जनरल-ओबीसी कर्मचारी यूनियन ने भी पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करने की मांग को लेकर गोल्ज्यू के दरबार में हाजिरी दी है, बुधवार शाम जनरल ओबीसी कर्मचारी यूनियन के बैनर तले सरकारी विभागों के कर्मचारी  चितई के गोल्ज्यू देवता(न्याय के देवता) मंदिर पहुंचे और वहां जागर लगाकर देवता अवतरित किए गए।
हुड़के की थाप पर हुई जागर में गोल्ज्यू देवता ने कर्मचारियों की परेशानी सुनी और कहा कि 22 दिन के भीतर उनकी समस्या हल हो जाएगी। दर्जनों जनरल ओबीसी कर्मचारी बुधवार शाम चितई के गोल्ज्यू देवता मंदिर पहुंचे और उन्होंने जागर लगाकर देवता अवतरित किए। गोलज्यू की दुलेंची (गद्दी) लगाकर हुड़के की थाप में जागर शुरू हुई।
जागर में देवता के अवतरण के बाद कर्मचारी प्रतिनिधियों ने गोलज्यू से कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करने के आदेश सरकार को दिए हैं, लेकिन सरकार कोर्ट के आदेश का पालन नहीं कर रही है। कर्मचारियों के साथ अन्याय हो रहा है।
अवतरित हुए गोल्ज्यू देवता ने कहा कि 22 दिन के भीतर उनकी मन्नत पूरी हो जाएगी। इसके बाद देवताओं ने सभी कर्मचारियों को भभूति लगाकर आशीर्वाद दिया। इससे पहले बुधवार की सुबह कर्मचारियों ने अल्मोड़ा के चौघानपाटा में सभा की और नारेबाजी के साथ जुलूस निकाला।