Home उत्तराखंड नैनीताल डीएम की सराहनीय पहल, सुदूरवर्ती गांवों में रात्रि चौपाल लगाकर सुनेंगे...

नैनीताल डीएम की सराहनीय पहल, सुदूरवर्ती गांवों में रात्रि चौपाल लगाकर सुनेंगे लोगों की समस्याएं।

353
SHARE
सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने एवं जन समस्याओं का मौके पर ही निराकरण करने के उद्देश्य से आज नैनीताल जिलाधिकारी सविन बंसल और उनकी टीम विकास खण्ड धारी के दुर्गम गांव बिरसिंग्या पहुंची। सविन बंसल पहले जिलाधिकारी बन गए हैं, जिन्होंने आजाद भारत के बाद इस गांव का दौरा किया। लगभग 8 किमी के दुर्गम पहाडी रास्ते को पैदल पार कर जिलाधिकारी इस गांव में पहुंचे, जहां ग्रामीणों ने उनका जोरदार स्वागत कर दिया। यहां पहुंचकर उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके बाद जिलाधिकारी क्षेत्र के दुदली गांव में आयोजित रात्रि चौपाल में प्रतिभाग करेंगे, चौपाल में जिलाधिकारी लोगों की समस्याओं को सुनेंगे। चौपाल कार्यक्रम में  मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, खण्ड विकास अधिकारी तथा स्वास्थ्य, जल संस्थान, विद्युत, समाज कल्याण, शिक्षा, लोनिवि, बाल विकास एवं महिला कल्याण विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहेेंगे। जिलाधिकारी रात्रि विश्राम भी दुद्ली में ही करेंगे।

इसी कड़ी में चार मार्च को जिलाधिकारी राजकीय इण्टर काॅलेज बबियाड़ (धारी) में आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में प्रतिभाग करेंगे। बहुद्देशीय शिविर में आधार कार्ड, कृषि विभाग द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड, पीएम किसान सम्मान निधि, सब्सिड़ी पर कृषि यंत्रों एवं बीजों का वितरण, स्वास्थ्य विभाग द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य जाॅच एवं दवाई वितरण के साथ ही दिव्यांग व्यक्तियों के दिव्यांगता प्रमाणपत्र निर्गत किये जायेंगे। समाज कल्याण विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार की पेंशनों के फार्म भी भरवाये जायेंगे। शिविर में प्रेबेशन विभाग, बाल विकास, राजस्व, विद्युत, पेयजल, शिक्षा, लोनिवि, ग्राम्य विकास, उद्यान, पशुपालन, सहकारिता, जिला पंचायत, आपूर्ति विभाग, उद्योग, श्रम, पर्यटन, लीड बैंक आदि के द्वारा स्टाॅल लगाये जायेंगे। शिविर में सभी जनपद स्तरीय अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।