Home उत्तराखंड मुख्यमंत्री ने महाकुंभ के लिये स्थाई और अस्थाई कार्यों में तेजी लाने...

मुख्यमंत्री ने महाकुंभ के लिये स्थाई और अस्थाई कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश।

237
SHARE

हरिद्वार महाकुंभ 2021 की तैयारियों के लिए काम जोरों पर है, प्रदेश सरकार भव्य कुंभ के आयोजन में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। इसी को देखते हुए मुख्यमंत्री समय-समय पर कुंभ मेले की तैयारियों को बैठकों के माध्यम से जांच रहे हैं, वहीं आज मुख्यमंत्री ने हरिद्वार पहुंचकर मेला प्रशासन, उत्तराखंड सरकार और अखाड़ा परिषद के सहयोग से कुंभ मेले की तैयारियों का जायजा लिया।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने महाकुंभ के लिये स्थाई और अस्थाई कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए और कहा कि कार्यों की गुणवत्ता पर जरूर बल दिया जाए। उन्होंने कहा कि किसी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री ने गौरी शंकर क्षेत्र का निरीक्षण किया। कहा कि इस बार पूर्व की तुलना में मेला क्षेत्र को अधिक विस्तृत किया जा रहा है। सभी सन्यासियों की सुविधाओं के लिये गौरी शंकर क्षेत्र स्थान घाट के निर्माण के दिशा-निर्देश भी दिये।

मुख्यमंत्री रावत ने बैरागी कैंप से कनखल को जोड़ने वाले पुल, जल निगम की आई बेल की विशेष उपयोगिता की सराहना की। इस अवसर पर नगर विकास मंत्री मदन कौशिक, सचिव शहरी विभाग शैलेश बगोली, मेलाधिकारी दीपक रावत, मेला आईजी संजय गुंज्याल सहित अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद महासचिव हरी गिरी महाराज, अन्य प्रमुख संत गण सहित मेला के विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारी भी थे।