Home उत्तराखंड कुमाऊं मण्डल के पर्वतीय जिलों के लिए अच्छी खबर।

कुमाऊं मण्डल के पर्वतीय जिलों के लिए अच्छी खबर।

944
SHARE

कुमाऊं मण्डल के पर्वतीय जनपदों के लिए अच्छी खबर है, अब आईवीआरआई मुक्तेश्वर में भी कोरोना सैंपल की जांच हो सकेगी। यहां तैयार की गई लैब मंगलवार से शुरु हो गई है। लैब की दोनों मशीनें संचालित होने पर रोजाना 2 सौ सैंपलों की जांच होगी। नैनीताल जिलाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि लैब में कुमाऊं के पर्वतीय जिले पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा और नैनीताल के दुर्गम क्षेत्रों के सैंपलों की जांच होगी। नमूनों की जांच में आने वाले व्यय का भुगतान प्रशासन से किया जाएगा।

आईवीआरआई मुक्तेश्वर में कोरोना जांच शुरु होने से कुमाऊं मण्डल के जिलों को बड़ी राहत मिलेगी। क्योंकि यहां अब तक एसटीएच हल्द्वानी की लैब में कोरोना सैंपलों की जांच हो रही थी, जिस पर अधिक दबाव के चलते सैंपलों की रिपोर्ट आने में लंबा समय लग रहा था। बीच में कुछ दिन तकनीकी खराबी के चलते लैब को बंद भी करना पड़ा जिससे कोरोनो सैंपलों की जांच प्रभावित हुई। अब मुक्तेश्वर में लैब शुरु होने से एसचीएच हल्द्वानी की लैब पर भी दबाव कम होगा और कोरोना सैंपलों की जांच में भी तेजी आएगी।

यह भी पढ़ें- रानीखेत चिकित्सालय सहित प्रदेश के इन चार चिकित्सालयों के लिए अच्छी खबर।

आईवीआरआई संस्थान प्रभारी डॉ. पी. सिंह ने कहा कि रोजाना जांच रिपोर्ट आईसीएमआर के पोर्टल पर अनिवार्य रूप से अपलोड की जाए। उन्होंने आईवीआरआई लैब में कार्य कर रहे वैज्ञानिक और तकनीकी स्टाफ से कोविड-19 के कार्यों में सहभागिता करने को कहा। मंगलवार को लैब में 20 सैंपल जांच के लिए दिए गए, लैब में एसटीएच से माइक्रोबायोलॉजिस्ट की तैनाती की है। सीएमओ डॉ. भारती राणा ने बताया कि आईवीआरआई के वैज्ञानिक व कर्मचारियों को पूर्ण में प्रशिक्षण दिया जा चुका है।