Home उत्तराखंड कभी सड़क किनारे करते थे बूट पॉलिस, अब बन गए इंडियन आइडल...

कभी सड़क किनारे करते थे बूट पॉलिस, अब बन गए इंडियन आइडल 11 के विजेता।

1312
SHARE
सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के लोकप्रिय शो इंडियन आइडल को अपने 11वें सीजन का विजेता सनी हिन्दुस्तानी के रुप में मिला है। इंडियन आइडल ने अब तक कई हुनरमंद सिंगर्स की खोजकर उन्हें नया मुकाम दिया और संगीत की दुनिया को नए हीरे दिए, इस बार भी इंडियन आइडल 11 ने ऐसे ही हीरो को तराशा है। सनी हिंदुस्तानी पंजाब के बठिंडा स्थित अमरपुरा बस्ती के रहने वाले हैं। शो में आने से पहले सनी सड़क किनारे जूते पॉलिश करते थे, जबकि उनकी मां गुब्बारे बेचती थीं।
गाने का शौक सनी को बचपन से था, सनी हिंदुस्तानी ने कभी भी संगती की शिक्षा नहीं ली है। उन्होंने गाने सुनकर संगीत सीखा, एक एपिसोड में उन्होंने खुद इस बात का जिक्र किया था कि वह बहुत छोटे थे तब उन्होंने पहली बार नुसरत फतेह अली खान का गाना ‘वो हटा रहे हैं परदा’ एक दरगाह पर सुना था। उस गाने को सुनकार वह रोने लगे, बस यही से उन्हें गायकी का शौक लगा। इसके बाद वह नुसरत फतेह अली खान सहित कई गायकों को गाना शुरू कर दिया था।    जीत के बाद सनी को 25 लाख की इनामी राशि के साथ चमचमाती ट्रॉफी और टाटा अल्ट्रोज कार प्रदान की गई। इसके साथ ही हिमेश की अगली फिल्म में उन्हें गाने का मौका मिलेगा। सनी हिंदुस्तानी की अपनी आवाज का बदौलत भले नया मुकाम मिला हो, लेकिन वो अपने उन दिनों को कभी नहीं भूले, जो वो इंडियन आइडल 11 में आने से पहले बिता रहे थे।
अपनी जीत से खुश और अभिभूत, सनी ने कहा, “मैंने पहले दौर से गुजरने के बारे में भी नहीं सोचा था, प्रतियोगिता जीतना तो दूर की बात है। मैंने एक लंबा रास्ता तय किया है और विश्वास नहीं कर सकता कि सफर अभी शुरू हुआ है। इतने बड़े मंच पर गाने का अवसर मिलने से लेकर इस शो को असल में जीतने तक, यह मेरे सभी सपनों, इच्छाओं और प्रार्थनाओं का एक साथ सच होने जैसा है।