Home उत्तराखंड कोविड चिकित्सालय के सभी वार्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के भी निर्देश।

कोविड चिकित्सालय के सभी वार्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के भी निर्देश।

361
SHARE

मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने वीडियो कांफ्रेसिंग से प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों व संबंधित अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 के रोकथाम एवं बेहतर उपचार हेतु जनपदों में की जा रही व्यवस्थाओं आदि के संबंध में समीक्षा की। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों से कहा कि सभी जिलाधिकारियों एवं उनकी टीम द्वारा कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए बेहतर ढंग से कार्य किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के अधिक मामले में आ रहे हैं, जिससे  निपटने के लिए सभी अधिकारियों को और अधिक सर्तकता एवं सावधानी से कार्य करने की जरूरत है, जिससे हम कोराना संक्रमण के प्रभाव को कम करने में सफल हो सकें। इसके लिए कोरोना संक्रमण वाले क्षेत्रों में ठीक ढंग से सर्विलांस और काॅन्टेक्ट ट्रेसिंग करते हुए सभी लोगो के सैंपल अनिवार्य रूप से लिये जाय।

मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि कोविड केयर सेंटरों में निरन्तर ऑक्सीजन उपलब्ध रहे इसके लिए सभी बेहतर ढंग से मैनजमेंट व्यवस्था करते हुए पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की व्यवस्था की जाय। उन्होंने कोविड चिकित्सालय के सभी वार्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के भी निर्देश दिए साथ ही कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों का चिकित्सकों द्वारा नियमति रूटीन के अतिरिक्त सुबह-शाम भी उनका स्वास्थ परीक्षण एवं निगरानी करने के निर्देश दिये। उन्होने यह भी कहा कि कंटेनमेंट जोन में विशेष सर्तकता बरतने की जरूरत है तथा इन क्षेत्रों से सभी व्यक्तियों का अनिवार्य रूप से सैंपल लियें जाय। गाइडलाईन के अनुसार ही होम आइसोलेशन किया जाय तथा होम आइसोलेशन में मरीजों की ठीक ढंग से चेकअप किया जाय तथा कंट्रोल रूम में पर्याप्त एंबुलेस व्यवस्था सुनिश्चित की जाय, ताकि होम आइसोलेशन में किसी को किसी प्रकार की परेशानी होने पर तत्काल उसे अस्पताल तक पहुंचाया जा सके।

उन्होने जिलाधिकारियों से  कहा  कि वे अपने-अपने जनपदों की सीमाओं पर विशेष निगरानी रखते हुए सर्तकता बरतें तथा आने वाले व्यक्तियों का पूरा डाटा अनिवार्य रूप से तैयार किया जाय, इसमें किसी प्रकार की कोई लापवाही न बरती जाय। वीसी मे सचिव स्वास्थ अमित नेगी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए सभी जिलाधिकारियो द्वारा कडी मेहनत से कार्य किया जा रहा हैं, तथा वर्तमान समय में कोराना संक्रमण के मामले लगातार आ रहें हैं, इसके लिए सभी अधिकारियों को और अधिक गंभीरता से कार्य करने की आवश्यकता हैं। उन्होने कहा कि सभी लोगों से सोशल डिस्टेसिंग एवं मॉस्क का प्रयोग करने के लिए निरन्तर प्रचार-प्रसार करते हुए सभी लोगो से अनिवार्य रूप से इसका पालन कराया जाय, यदि किसी व्यक्ति द्वारा नियमों की पालन नही किया जाता हैं तो उसके विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की जाय।