Home उत्तराखंड हफ्ते में दो दिन बच्चों को मिलेगा उबला हुआ अंड़ा।

हफ्ते में दो दिन बच्चों को मिलेगा उबला हुआ अंड़ा।

774
SHARE
www.uihmt.com

आंगनबाड़ी केंद्रों में तीन से छह वर्ष के बच्चों को कुक्ड फूड दिया जाता है।इसमें नाश्ते के साथ ही दोपहर का भोजन दिया जाता है।मुख्यमंत्री बाल पोषण अभियान के तहत अब प्रदेश के 14947 आंगनबाड़ी केंद्र और 5120 मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को उबला अंडा और केला दिया जाएगा।
मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश के आंगनबाड़ी केंद्रों में तीन से छह साल तक के बच्चों को अतिरिक्त पोषाहार के रूप में हफ्ते में दो दिन उबला अंडा और दो दिन केला दिया जाएगा। बाल पालाश योजना के तहत पोषाहार बच्चों को मिलेगा।केंद्रों को अंडे और केले के लिए मुख्यमंत्री बाल पोषण योजना के मद से अलग से बजट दिया जाएगा।इस संबंध में निदेशक ने सभी जिलों को योजना के संचालन के लिए पत्र भेजा है।
सचिव उत्तराखंड शासन सौजन्या ने इस संबंध में महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास विभाग की निदेशक को पत्र भेजा है। इसमें कहा है कि हर सप्ताह बुधवार और शनिवार को बच्चों को उबला अंडा और सोमवार, मंगलवार को केला उपलब्ध कराया जाए।अंडा न खाने वाले बच्चों को उसकी जगह केला दिया जाएगा। यह निर्देश दिए कि यदि क्षेत्र में केला उपलब्ध नहीं है तो केले की जगह स्थानीय मौसमी फल खिलाया जाए। मौसमी फल की दर पांच रुपये से अधिक न हो।वहीं ऊधमसिंह नगर के आंगनबाड़ी केंद्रों में वितरित कुक्ड फूड में अंडा या केला अक्तूबर में शामिल किया जा चुका है। अब पालाश योजना में भी बच्चों को अंडा और केला देने का प्रावधान किया गया है।डीपीओ उदय प्रकाश ने बताया कि पालाश योजना में बच्चों को अंडा दिया जाना है। कुक्ड फूड के मीनू में पहले से अंडा या केला दिया जा रहा है, वो जारी रहेगा। अब बच्चों को  चार दिन अंडा मिलेगा।
आंगनबाड़ी केंद्रों को बच्चों के लिए भोजन बनाने के लिए विभाग चूल्हे और सिलिंडर देने जा रहा है।इसके लिए जल्द ही विभाग जिलों को बजट जारी करेगा। इसके अलावा हफ्ते में चार दिन नाश्ते में बच्चों को दूध देने पर भी विचार चल रहा है।