Home उत्तराखंड बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर- अगले दो माह में समूह ग...

बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर- अगले दो माह में समूह ग की बंपर भर्ती, कोरोना काल में लिखित परीक्षाओं के लिए दिशा-निर्देश भी जारी।

495
SHARE

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से समूह के पदों पर बंपर भर्ती शुरू होने वाली है आगामी 2 माह के भीतर सार हजार से ज्यादा खाली पदों पर आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी चयन वर्ष 2019-20 से लेकर अब तक डेढ़ साल में आयोग को 7200 पदों के प्रस्ताव मिले हैं, इसमें ढाई हजार पदों की विज्ञप्ति जारी कर आवेदन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अनलॉक-4 में परीक्षाओं की अनुमति के बाद चयन आयोग ने भर्ती प्रक्रिया में तेजी लाने की कवायद शुरू कर दिया अक्टूबर और नवंबर माह में 8 भर्ती परीक्षाएं कराने के लिए आयोग तैयारी में जुट गया है।

दैनिक अखबार अमर उजाला की एक रिपोर्ट के मुताबिक आगामी 2 माह में 4000 से अधिक पदों पर आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी इसमें एलटी शिक्षकों के 1400 पद, स्नातक स्तर की 800 सहायक लेखाकार के 500 पद समेत अन्य विभागों के खाली पद शामिल हैं जल्द ही इन पदों पर युवाओं को आवेदन का मौका मिलेगा।  अमर उजाला ने चयन आयोग के सचिव संतोष बरौनी के हवाले से लिखा है कि विभिन्न विभागों से आयोग को 7200 पदों पर भर्ती करने के प्रस्ताव मिले हैं इसमें ढाई हजार पदों पर आवेदन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और 4700 पदों पर 2 माह में आवेदन प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य रखा गया है।

वही आयोग ने कोरोना संक्रमण काल में आयोग की लिखित परीक्षा के दौरान संक्रमण से बचाव हेतु किए जाने वाले उपाय से संबंधित दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं, निकट भविष्य में आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली लिखित परीक्षाओं के लिए परीक्षा केंद्रों में निम्न व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएंगे-

https://sssc.uk.gov.in/files/18sep20.pdf

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए राज्य के बाहर से तथा राज्य के विभिन्न जिलों से आने वाले अभ्यर्थियों एवं उनके अभिभावकों को परीक्षा से संबंधित प्रवेश पत्र के अतिरिक्त किसी परमिट/ यात्रा अनुज्ञा/ ई-पास दिखाने की आवश्यकता नहीं होगी, इसके साथ ही परीक्षा के लिए आने वाले अभ्यर्थियों का आरटी पीसीआर या कोई अन्य टेस्ट या क्वारंटीन नहीं किया जाएगा। अभ्यर्थियों को अपनी यात्रा के लिए स्मार्ट सिटी वेब पोर्टल पर अनिवार्य रूप से पंजीकरण करवाना होगा। अतः अभ्यर्थी अपने घर से अपना प्रवेश पत्र डाउनलोड करके प्रिंटआउट लेकर चलें तथा उपरोक्त पोर्टल पर यात्रा का पंजीकरण करा ले इन अभिलेखों की जांच राज्य की सीमा या अंतर्जनपदीय सीमा पर होगी।

आयोग द्वारा प्रवेश में परीक्षा केंद्र पर भीड़ एकत्र होने से बचने के लिए प्रवेश के लिए समय अवधि अंकित की जा सकती है अतः पूरा प्रयास करें कि उसी टाइम स्लॉट में परीक्षा केंद्र में प्रवेश कर ले जिससे प्रवेश के लिए परीक्षा केंद्र में अनावश्यक भीड़ ना हो जो अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र पर जल्दी पहुंच जाते हैं वहीं परीक्षा केंद्र के बाहर अन्य स्थान पार्क आदि में अपने टाइम स्लॉट की प्रतीक्षा कर ले।

अभ्यर्थी अपने साथ मास्टर अनिवार्य रूप से लाएंगे अन्यथा परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी इसके अतिरिक्त यदि वे व्यक्तिगत सुरक्षा की दृष्टि से उचित समझते हैं तो हाथों में ग्लवज पहन कर आ सकते हैं। अभ्यर्थी अपने साथ पारदर्शी बोतल में पानी वह पारदर्शी बोतल में सैनिटाइजर भी ला सकते हैं।

प्रत्येक अभ्यर्थी की परीक्षा केंद्र पर प्रवेश के समय थर्मल स्कैनिंग की जाएगी अधिक तापमान पाए जाने वाले या कोई और लक्षण पाए जाने पर ऐसे अभ्यर्थियों की परीक्षा हेतु अलग कक्ष की व्यवस्था की जाएगी प्रवेश द्वार पर प्रवेश पत्र की जांच के साथ-साथ पर्याप्त दूरी से एच एच एमडी से अभ्यर्थियों की सुरक्षा जांच की जाएगी मोबाइल फोन तथा अन्य प्रतिबंधित सामग्री का प्रवेश परीक्षा केंद्र में प्रतिबंधित रहेगा अतः अभ्यर्थी इन्हें परीक्षा केंद्र के बाहर ही रखने छोड़ने की व्यवस्था करें अन्यथा उन्हें परीक्षा से वंचित किया जा सकता है।

सुरक्षा जांच से संबंधित सभी कार्मिकों को आयोग के व्यय पर पीपीई किट उपलब्ध कराई जाएगी इसके साथ ही परीक्षा केंद्र में परीक्षा कार्य में लगे सभी अधिकारियों कर्मचारियों के लिए भी मास्क वह ग्लब्ज की व्यवस्था आयोग द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। परीक्षा कक्ष में परीक्षक द्वारा भी संपूर्ण अवधि पर मास्को दस्तानों का उपयोग किया जाएगा समय-समय पर या आवश्यकता अनुरूप वे अभ्यर्थियों के हाथों को भी सैनिटाइज करेंगे।

परीक्षा की शुचिता के लिए बायोमेट्रिक उपस्थिति एक आवश्यक गतिविधि है अतः पीपीई किट में आयोग प्रतिनिधि बायोमेट्रिक उपस्थिति लाएंगे वह लेने के पूर्व व बाद अभ्यर्थियों के हाथों को सैनिटाइज भी करेंगे। Covid-19 के कारण आयोग द्वारा पहले उन परीक्षाओं को लिया जा रहा है जिनमें अभ्यर्थियों की संख्या कम है धीरे धीरे परीक्षा केंद्रों तथा अभ्यर्थियों के लिए सुविधाओं की उपलब्धता के उपरांत अधिक संख्या वाली लिखित परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा।