Home खास ख़बर 17 दिसंबर से 21 दिसंबर तक देहरादून में पीठासीन अधिकारियों का अखिल...

17 दिसंबर से 21 दिसंबर तक देहरादून में पीठासीन अधिकारियों का अखिल भारतीय सम्मेलन

232
SHARE
17 दिसंबर से 21 दिसंबर तक देहरादून में पीठासीन अधिकारियों का अखिल भारतीय सम्मेलन आयोजित होना है, जिसमें सभी राज्यों के विधानसभा अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, विधानसभा के सचिव, विधान परिषद के सभापति प्रतिभाग करेंगे।सम्मेलन की अध्यक्षता लोकसभा अध्यक्ष ओम विरला करेंगे।सम्मेलन में केन्द्रीय गृहमंत्री के आने की भी संभावना है।
अखिल भारतीय सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए आज उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने उच्च अधिकारियों के संग कार्यक्रम स्थल होटल रीजेंटा का निरीक्षण किया। इस दौरान शासन, प्रशासन, विभाग एवं विधानसभा के उच्च अधिकारी भी मौजूद रहे।
विधानसभा अध्यक्ष ने मौके पर जायजा लेते हुए आयोजन स्थल पर ओपन सेरेमनी हॉल, कॉन्फ्रेंस हॉल, पार्किंग व्यवस्था सहित प्रदर्शनी स्थल एवं अतिथियों के भोज स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने एसपी सिटी से उत्तराखंड में आने वाले अतिथियों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए साथ ही आयोजन स्थल पर औद्योगिक विभाग द्वारा लगाए जाने वाले स्टालों, हस्तशिल्प प्रदर्शनी के बारे में भी जानकारी ली।
इस दौरान आयोजन स्थल की सुरक्षा व्यवस्था, अग्निशमन इंतजाम, अतिथियों के प्रवेश एवं निर्गम हेतु उचित व्यवस्था करने की भी बात कही। उन्होंने अतिथियों के ठहरने की व्यवस्था हेतु कमरों का भी निरीक्षण किया। आयोजन स्थल पर मीडिया सेंटर बनाने, प्रेस गैलरी एवं ओपनिंग सेरेमनी के दिन उत्तराखंड के मंत्रियों एवं विधायकों की उचित सीटिंग व्यवस्था करने के भी अधिकारियों को निर्देश दिए।
ठंड का मौसम होने के कारण खुले स्थान पर अलाव व हीटर की व्यवस्था, लाइट की उचित व्यवस्था एवं भोज के दौरान उत्तराखंड के परंपरागत व्यंजन को शामिल करने के निर्देश होटल के अधिकारियों को दिए। साथ ही सम्मेलन में भोज के दौरान व्यंजनों के मेन्यु को भी उन्हें उपलब्ध कराने की बात कही। कार्यक्रम में प्लास्टिक को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रखा जाए।साथ ही पूरे सम्मेलन के दौरान आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध रहे। सम्मेलन के आयोजन में किसी भी प्रकार की कमी ना होने पाए इसके लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।इस सम्मेलन का लोकसभा टीवी, राज्यसभा टीवी एवं दूरदर्शन, आकाशवाणी द्वारा सम्मेलन के उद्घाटन अवसर का सीधा प्रसारण किया जाएगा।