Home उत्तराखंड दो दिन बाजार बंद करने से नहीं थमेगा कोरोना,10 दिन के लिए...

दो दिन बाजार बंद करने से नहीं थमेगा कोरोना,10 दिन के लिए संपूर्ण लॉकडाउन लगाए प्रशासन। जानिए क्या है पूरा मामला..

309
SHARE

पिथौरागढ़ में लगातार कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है, शनिवार को भी यहां बीते 24 घंटों के दौरान 19 ने कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए थे। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए शासन- प्रशासन लगातार प्रयासरत है, साप्ताहिक बंदी व 24 घंटे या 48 घंटे के लिए बाजार बंद कराने जैसे निर्णय भी लिए जा रहे हैं। पिथौरागढ में भी बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते गंगोलीहाट नगर में स्थानीय व्यापारियों के आह्वान पर जिला प्रशासन ने 4 दिन तक बाजार बंद रखा इस दौरान यहां सैनिटाइजेशन के साथ ही गांवों में जाकर सैंम्पलिंग अभियान चलाया गया। गंगोलीहाट के बाद स्वास्थ्य विभाग पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय में भी दो दिन का लॉकडाउन करने की कोशिश में है, लेकिन प्रशासन व व्यापार संघ के बीच इसको लेकर सहमति नहीं बन पा रही है।

व्यापारी वर्ग लॉकडाउन के नाम पर दो दिन के लिए सिर्फ बाजार बंद करने की बात पर सहमत नहीं है। व्यापारी वर्ग का कहना है कि बढते कोरोना संक्रमण को देखते हुए वह दो दिन नहीं बल्कि 10 दिन का पूर्ण लॉकडाउन करने को तैयार हैं, बशर्ते बाजार के साथ सरकारी विभाग, बैंक व शराब की दुकानों सहित पूर्ण बंद किया जाए, कोरोना संक्रमण केवल बाजार बंद करने से नहीं थमेगा।

प्रशासन के दो दिन लॉकडाउन की सिफारिश से व्यापारी वर्ग इसलिए सहमत नहीं हैं क्योंकि उनका मानना है कि सिर्फ बाजार बंद करने से कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा, उन्होंने कहा है कि यदि वाकई प्रशासन कोरोना संक्रमण को रोकना चाहता है तो दस दिन के लिए लॉकडाउन करे, लेकिन बाजार के साथ जिला मुख्यालय के सभी सरकारी विभाग, बैंक, शराब की दुकानें सहित संपूर्ण बंद किया जाए। लोग सरकारी विभागों, बैंकों शराब की दुकानों में आवाजाही करेंगे तो कोरोना संक्रमण कम नहीं होगा। व्यापारियों ने साफ कहा है कि यदि पूर्ण लॉकडाउन होगा तभी वह बाजार बंद रखेंगे।