Home उत्तराखंड कोरोना का खौफ- ससुराल में दामाद के लिए भी नहीं खुले घर...

कोरोना का खौफ- ससुराल में दामाद के लिए भी नहीं खुले घर के दरवाजे।

400
SHARE

कोरोना वायरस का लोगों में इतना खौफ है कि लोग अब अपने सगे- संबंधियों को भी घर में आने से रोक रहे हैं। कई जगह प्रवासियों का घर लौटने का विरोध भी हो रहा है। बुधवार को ऐसी ही एक घटना उत्तराखंड के नैनीताल जिले से सामने आई है, जहां फरीदाबाद हरियाणा से एक व्यक्ति अपनी पत्नी व बेटी को लेने अपने ससुराल नैनीताल आया था, लेकिन ससुराल वालों ने दामाद को घर में घुसने तक नहीं दिया, मजबूरन युवक को अपने दोस्त के साथ नैनीताल कोतवाली में रात काटनी पड़ी।

मिली जानकारी के अनुसार फरीदाबाद हरियाणा निवासी युवक का ससुराल नैनीताल में है, लॉकडाउन के पहले उसकी पत्नी व बेटी नैनीताल आए थे, लॉकडाउन लागू होने से वह दोनों यहीं फंस गए। बुधवार को प्रशासन की मंजूरी लेकर युवक अपने दोस्त के साथ नैनीताल पहुंच गया, लेकिन ससुराल वालों ने कोरोना के खौफ के कारण दामाद को घर में घुसने भी नहीं दिया, होटल बंद होने के कारण युवक सड़क किनारे गाड़ी लगाकर गाड़ी में ही सो गया गश्त कर रही मल्लीताल पुलिस जब इनके पास पहुंची तो पूछताछ के दौरान युवक ने अपनी आपबीती सुनाई। मल्लीताल कोतवाली के एसएसआई इन्हें मल्लीताल कोतवाली ले आए, जिसके बाद पुलिस ने ससुराल के लोगों से संपर्क साधा।

पुलिस के अनुसार ससुरालियों का कहना है कि उन्होंने पहले ही नैनीताल आने से मना किया था, लेकिन युवक ने उनकी बात को नजरअंदाज किया। दिल्ली एनसीआर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों के चलते वह डरे थे। घर में भी ठहराने की अलग व्यवस्था नहीं थी, इस वजह से उसे घर नहीं आने दिया। इसके बाद अगले दिन युवक पत्नी व बेटी से मिले बगैर ही फरीदाबाद लौट गया।