Home उत्तराखंड बागेश्वर- अराजक तत्वों ने खंडित की भीम शिला, आस्था को पहुंचाई ठेस।

बागेश्वर- अराजक तत्वों ने खंडित की भीम शिला, आस्था को पहुंचाई ठेस।

309
SHARE

5 अगस्त को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राम मंदिर की आधारशिला रखी गयी और पूरे देश में इसके बाद उत्साह का माहौल रहा। लोगों ने घरों में दीप जलाकर खुशियां मनाई। वहीं दूसरी तरफ उत्तराखण्ड के बागेश्वर में प्रसिद्ध बैजनाथ मंदिर रखी आस्था का प्रतीक भीम शिला को कुछ अराजक तत्वों ने खंडित कर दिया। जिससे क्षेत्र के लोगों में काफी रोष व्यापत है।

बागेश्वर जिले में कत्यूरी शासकों द्वारा 9वीं शताब्दी में निर्मित बैजनाथ मंदिर की प्रसिद्ध मान्यता है कि यहां देवों के देव महादेव और पार्वती का विवाह हुआ था, जिस भीम शिला को अराजक तत्वों ने खंडित किया है, उसके बारे में भी ये मान्यता है कि इस शिला को 9 लोग अपनी एक-एक उंगली मात्र से ही उठा सकते थे, लेकिन यदि कोई एक व्यक्ति अकेले इस शिला को उठाने की कोशिश करे तो वो इस शिला को कदापि नहीं उठा सकता।

एक अन्य मान्यता के अनुसार महाभारत काल में जब पाण्डव यहाँ थे तब बलशाली भीम इस शिला से खेला करते थे। भीम शिला के खंडित हो जाने के बाद कत्यूरी समाज के लोगों और हिन्दू जागरण मंच में अत्यधिक रोष व्याप्त हो गया है। उन्होंने इसकी शिकायत बागेश्वर जिला प्रशासन और पुलिस से कर जांच की मांग की है।