Home उत्तराखंड अपनों ने ठुकराया, लेकिन पुलिस ने बचाया।

अपनों ने ठुकराया, लेकिन पुलिस ने बचाया।

140
SHARE
www.uihmt.com
प्रदेश में नवजात शिशुओं को फेंकने की शर्मनाक घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं, बीते दिनों नैनीताल, रामनगर, काशीपुर से नवजात के लावारिस अवस्था में मिलने के मामले सामने आए थे, तो वहीं अब राजधानी देहरादून के सहसपुर थाना क्षेत्र से एक नवजात लावारिस अवस्था में झाडियों से बरामद हुआ है।
मंगलवार देर शाम सहसपुर की चीता पुलिस को गश्त करते हुए चोरखाला के समीप स्थित झाड़ियों के बीच से किसी शिशु के रोने की आवाज आई, जिसे सुनकर चीता पुलिसकर्मी वहां पहुंचे, वहां नवजात शिशु नग्न अवस्था में काफी बुरी स्थिति में पड़ा हुआ मिला। जिसको तुरन्त पुलिस द्वारा कपड़े की व्यवस्था करके वहां से उठाकर सीएचसी सहसपुर में भर्ती किया। जहां नवजात शिशु को प्राथमिक चिकित्सा दी गयी। प्राथमिक चिकित्सा के बाद शिशु को बेहतर चिकित्सा के लिए दून अस्पताल रेफर कर दिया गया है। लावारिस नवजात शिशु के सम्बन्ध में पुलिस द्वारा चोरखाला सहसपुर के आस-पास के क्षेत्र में लावारिस नवजात शिशु के परिजनों की तलाश की जा रही है। वहीं दून अस्पताल में भर्ती नवजात को कुछ लोगों गोद लेने की इच्छा जताई।