Home अंतर्राष्ट्रीय 117 दिन बाद क्रिकेट की वापसी, मैदान पर दिखेंगे कई बदलाव।

117 दिन बाद क्रिकेट की वापसी, मैदान पर दिखेंगे कई बदलाव।

242
SHARE

पूरी दुनिया इस वक्त कोविड-19 महामारी से जूझ रही है। कोरोना महामारी का असर खेल प्रतियोगिताओं पर भी पड़ा है। इस दौरान कई क्रिकेट सीरीज तो वहीं अन्य खेलों के भी कई बड़े आयोजन रद्द करने पड़े। वहीं अब 117 दिन बाद आज से क्रिकेट की वापसी होने जा रही है।

कोविड-19 महामारी के कारण 15 मार्च 2020 के बाद से ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट ठप पड़ा है, और अब इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच जैव सुरक्षित वातावरण में खाली स्टेडियमों में इसकी शुरुआत होने जा रही है। इससे पहले आखिरी मैच ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच सिडनी में एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय के रूप में खेला गया था।

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच बुधवार से साउथेम्पटन में शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच से 117 दिनों बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी होगी और यह सीमित ओवरों की क्रिकेट के चलन के बाद पिछले 46 वर्षों में पहला अवसर होगा, जब 100 से भी अधिक दिनों तक कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला गया। साउथेम्पटन में यह मैच भारतीय समयानुसार दोपहर 3.30 बजे से खेला जाएगा, ऐसा युग जिसमें मैदान पर खिलाड़ियों में जोश भरने वाले दर्शक नहीं होंगे। खिलाड़ी गले नहीं मिल सकेंगे, हफ्ते में दो बार कोरोना जांच होगी और खिलाड़ी होटल से बाहर नहीं जा सकेंगे।

यह मैच सिर्फ क्रिकेट ही नहीं, उससे इतर भी कारणों से खेल की इतिहास में दर्ज हो जाएगा। दर्शकों के बिना, बार-बार कोरोना वायरस जांच के बीच, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए होने वाले ये मैच भविष्य में मैचों और दौरों का ब्लूप्रिंट भी तैयार करेंगे।

अब मैदान पर दिखेंगे ये इतने सारे बदलाव –

केवल दोनों कप्तान बेन स्टोक्स- जेसन होल्डर तथा मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड टॉस के लिए बाहर जाएंगे, टॉस में कोई कैमरा नहीं होगा और न ही कोई हैंडशेक होगा। अंपायर रिचर्ड इलिंगवर्थ और रिचर्ड केटलबोरो अपनी गेंद लेकर जाएंगे, मैच के दौरान सेनेटाइजेशन ब्रेक होगा। खिलाड़ी दस्ताने, शर्ट, पानी की बोतल, बैग या स्वेटर साझा नहीं कर सकते, कोई भी बॉल ब्वॉय नहीं होगा, और ग्राउंड स्टाफ मैदान पर खिलाड़ियों के 20 मीटर के दायरे में नहीं जाएगा।