Home खास ख़बर शशिकला और दीपक ने साजिश कर ‘अम्मा’ को मारा: जयललिता की भतीजी

शशिकला और दीपक ने साजिश कर ‘अम्मा’ को मारा: जयललिता की भतीजी

1611
SHARE

दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता के पोएस गार्डेन स्थित घर पर रविवार को तब नाटकीय स्थिति पैदा हो गई तब उनकी भतीजी जे दीपा को आवास में प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी गई. वे जब घर पहुंची तो संयोगवश वहां उनके भाई दीपक भी वहां मौजूद थे. इसके बाद दीपा ने अपने भाई पर जयललिता के मौत का इल्जाम लगाया और उनके समर्थकों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया.

दीपा ने खांसते बाहर आईं. उन्होंने कहा की ‘मैं यहां दीपक के बुलावे पर आई हूं. लेकिन उन्होंने मुझपर हाथ चलाया और धक्के मारकर बाहर निकाल दिया.’ दीपा वहां अपने पति के. माधवन के साथ पहुंची थीं. दीपा ने अपने पति की मौजूदगी में कहा कि ‘मैं यहां अकेले आने से डर रही थी. इसी वजह से मेरा साथ देने को यहां आए हैं.’

दीपा ने पोएस गार्डेन स्थित जयललित के घर जाने का प्लान पहले से ही बना लिया था. दीपा के करीबियों ने व्हाट्सएप से मैसेज भेजकर मीडिया कवरेज के लिए अनुरोध किया था. पोएस गार्डेन में प्राइवेट सिक्योरिटी के एक इंग्लिश चैनल के रिपोर्टर और कैमरामैन के साथ बदतमीजी की जिसके बाद वे घायल हो गए. इसके बाद ही वहां की स्थिति बिगड़ गई.

दीपा ने कहा ‘ दीपक शशिकला और उनके परिवार के साथ काम कर रहे हैं. वह सुबह 5 बजे से ही बार-बार कॉल कर के बुला रहा था. दीपक ने कहा था कि वह हमें लेने गेट तक आएगा और अंदर लेकर जाएगा.’ दीपा बताती हैं ‘अगर उन लोगों ने हमारे साथ आ रहे कैमरामैन और रिपोर्टर पर हमला नहीं करते, तो हम घर के अंदर जा सकते थे. अब मैं जान चुकी हूं की वह मेरे साथ कुछ करने का प्लान बना रहे थे.’ इसके आगे दीपा ने कुछ गहरे इल्जाम भी लगा दिए. उन्होंने कहा ‘दीपक भी शशिकला की तरह दोषी है. उसने शशिकला के साथ मिलकर अम्मा को मारा है.’ इसके लिए उसे भी सजा मिलनी चाहिए.आवास पर मौजूद अन्नाद्रमुक अम्मा गुट के सूत्रों ने बताया कि दीपा अनियोजित तौर पर आई थीं. वह अपनी दिवंगत चाची की तस्वीर पर माला चढ़ाना चाहती थीं. जयललिता की तस्वीर विशाल आवास के बरामदे में है. उन्होंने कहा कि शुरू में दीपा को तस्वीर पर माला चढ़ाने की अनुमति दे दी गई. इसके बाद वह घर में प्रवेश करना चाहती थी जिसकी इजाजत नहीं दी गई.

दीपा अचानक से घर में प्रवेश करना चाहती थीं. इसके बारे में अम्मा गुट के सूत्रों ने कहा कि अंदर जाने की इजाजत देने का उनके पास अधिकार नहीं है. उनलोगों ने दीपा को बताया कि घर बंद है और उनसे परिसर से चले जाने को कहा गया. दीपा के समर्थकों ने यह आरोप लागते हुए धरना दिया कि अन्ना द्रमुक अम्मा के उपमहासचिव टीटी दिनाकरन के समर्थकों ने घर में प्रवेश करने की कोशिश को रोका.

घटना को लेकर विवाद होने पर, पौश इलाके में पुलिस की मौजूदगी बढ़ा दी गई है.