Home अपना उत्तराखंड उत्तराखंड: अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ा गांव और पुल डूबा, लगातार बारिश...

उत्तराखंड: अलकनंदा नदी का जलस्तर बढ़ा गांव और पुल डूबा, लगातार बारिश से उफान पर नदी-नाले

948
SHARE
उत्तराखंड में बुधवार को कहर बरपाने के बाद गुरुवार की सुबह से ही राजधानी देहरादून में बारिश का दौर जारी रहा। कल दोपहर से रुक-रुक कर हो रही बारिश से यहां रिस्पना और बिंदाल नदी का जलस्तर बढ़ा हुआ है। मौसम का मिजाज देखते हुए पुलिस और प्रशासन अलर्ट पर है।
बुधवार रात को हुई तेज बारिश से बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ और क्षेत्रपाल में ठप पड़ा हुआ है। तीर्थयात्री हाईवे खुलने का इंतजार कर रहे हैं। केदारनाथ यात्रा सुचारु है। रुद्रप्रयाग गौरीकुंड हाईवे भड़ासू के पास भूस्खलन से बंद हो गया है। जलस्तर बढ़ने से रुद्रप्रयाग के मल्यासु में अलकनंदा नदी में बना डूब गया है। यहां मल्यासु गांव भी नदी की चपेट में आ गया है। पहाड़ों पर हो रही बारिश से अलकनंदा नदी का जलस्तर खतरे के निशान से पहुंच गया है। अपर जिलाधिकारी पौड़ी रामजी शरण शर्मा ने उपजिलाधिकरी श्रीनगर को आआरएस को सक्रियता एवं आवश्यक उपकरणों के साथ तैनात रहने के निर्देश दिए हैं। खतरा होने की दशा में तटीय क्षेत्र को खाली कराने निर्देश दिए गए हैं।

मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश में एक और दो सितंबर को भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार 31 अगस्त की रात से प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में तेज बारिश शुरू हो सकती है। भारी बारिश का यह क्रम तीन सितंबर तक जारी रहेगा। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में शुक्रवार 31 अगस्त की रात से मौसम में बदलाव होने लगेगा। ज्यादातर क्षेत्रों में तेज बारिश शुरू होने का अनुमान है। एक और दो सितंबर को कई इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। तीन सितंबर को भी लगभग सभी क्षेत्रों में बारिश होगी।